Home /News /bihar /

बिहार: 3 साल के मासूम पर भी दरिदों को तरस नहीं आया, नानी घर आए बच्चे को फिरौती के लिए मार डाला

बिहार: 3 साल के मासूम पर भी दरिदों को तरस नहीं आया, नानी घर आए बच्चे को फिरौती के लिए मार डाला

नवादा में फिरौती की रकम नहीं मिलने पर अपहरणकर्ताओं ने मासूम की गला दबाकर हत्या कर दी.

नवादा में फिरौती की रकम नहीं मिलने पर अपहरणकर्ताओं ने मासूम की गला दबाकर हत्या कर दी.

Nawada Crime News: नवादा जिले के काशीचक थाना क्षेत्र के भट्टा गांव में बच्चे का अपहरण कर हत्या का मामला प्रकाश में आया है. फिरौती की रकम नहीं देने पर मासूम की गला दबाकर हत्या का दी गई. मृतक की पहचान राकेश कुमार के 3 वर्षीय पुत्र आलोक कुमार के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि मृतक बच्चा तीन दिन पहले ही अपने ननिहाल आया था. मासूम की मौत से पूरे गांव में मातम का माहौल है. पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है.

अधिक पढ़ें ...

नवादा. बिहार  (Bihar) के नवादा से एक मासूम बच्चे के अपहरण और हत्या  (Child Kidnapping and Murder Case) का सनसनीखेज मामला सामने आया है. काशीचक थाना क्षेत्र के भट्टा गांव में राकेश कुमार के 3 वर्षीय बेटे आलोक कुमार का अपहरण कर लिया गया था. इसके बाद जब उन्हें फिरौती की रकम नहीं मिली तो अपहरणकर्ताओं ने मासूम की गला दबाकर हत्या कर दी. बच्चे के बदले पांच लाख रुपए की मांग की गई थी. बताया जा रहा है कि मृतक बच्चा तीन दिन पहले ही अपने ननिहाल आया था. मासूम की मौत से पूरे गांव में मातम का माहौल है. वहीं पुलिस पूरे मामले की जांच में जुट गई है.

मृतक के नाना जय चंद्र प्रसाद ने बताया कि हमारा नाती 3 वर्षीय आलोक कुमार घर के बाहर खेल रहा था. इसी दौरान बच्चा अचानक गायब हो गया. हमलोगों ने काफी खोजबीन की, लेकिन बच्चा हमें नहीं मिला. अचानक एक नंबर से फोन आया और हमसे 5 लाख की फिरौती की मांग की गई. पैसे नहीं देने पर बच्चे की हत्या करने की धमकी दी गई.

जय चंद्र प्रसाद ने बताया कि अपहरणकर्ता को उन्होंने पैसे देने का आश्वासन दिया मगर वो नहीं माने और बच्चे की हत्या कर दी. अपहरणकर्ता ने फोन पर बताया कि हम वारिसलीगंज से बात कर रहे हैं और उन्होंने अपना नाम नहीं बताया और देर रात नाती की हत्या कर फरार हो गया.  बच्चे का अपहरण होने के बाद हम लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी लेकिन बावजूद हमें हमारा बच्चा सकुशल नहीं मिल सका.

मृतक के नाना ने बताया कि दमाद राकेश कुमार सूरत में रहकर कामकाज करते हैं और अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं. 3 दिन पहले ही बेटी हमारे घर पहुंची थी. उन्होंने बताया कि घर के बगल में गली गुजरा है जहां पर राजेंद्र चौधरी के द्वारा 3 डिसमिल जमीन को लेकर 14 साल से विवाद चल रहा है और इसी विवाद में हमारी नाती की हत्या राजेंद्र चौधरी सहित उनके परिवार के लोगों ने मिलकर की है. फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया है.

Tags: Bihar News in hindi, Crime News, Murder

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर