Home /News /bihar /

Bihar Panchayat Election: जिउतिया का उपवास और गोद में बच्चे, 10 किमी पैदल चलकर वोट देने आईं महिलाएं

Bihar Panchayat Election: जिउतिया का उपवास और गोद में बच्चे, 10 किमी पैदल चलकर वोट देने आईं महिलाएं

बिहार में जारी पंचायत चुनाव के दौरान नवादा में वोट डालने पहुंची महिलाएं

बिहार में जारी पंचायत चुनाव के दौरान नवादा में वोट डालने पहुंची महिलाएं

Bihar Panchayat Chunav Voting: बुधवार को बिहार में जिउतिया का पर्व मनाया जा रहा है. इस पर्व में महिलाएं निर्जला रहकर अपने संतान की सलामती के लिए पूजा-पाठ करती हैं. निर्जला व्रत के बावजूद बिहार के अधिकांश बूथों पर महिलाओं की भीड़ दिख रही है.

अधिक पढ़ें ...

नवादा. बिहार में जारी पंचायत चुनाव (Bihar Panchayat Second Phase Elections) के दूसरे चरण के दौरान बुधवार को वोट डाले जा रहे हैं. वोटिंग को लेकर लोगों में जहां उत्साह देखने को मिल रहा है वहीं लोकतंत्र के इस पर्व में लोग भागीदारी करने से नहीं चुक रहे. राज्य के कई पंचायतों से अलग-अलग तरह की तस्वीर देखने को मिल रही हैं. ऐसी ही एक अलग तस्वीर बिहार के नवादा (Nawada) जिले से आई है.

नवादा जिला के उग्रवाद प्रभावित क्षेत्र कौआकोल के पचम्बा बूथ पर वोटर 10 किलोमीटर पैदल पहाड़ियों का रास्ता तय कर अपने मतों का इस्तेमाल करने के लिए पहुंचे. सबसे खास बात ये रही कि जिउतिया पर्व के उपवास के बावजूद महिलाएं भी बड़ी संख्या में वोट करने के लिए पहुंचीं. कौआकोल के अति नक्सल प्रभावित इलाका दनिया, रानी गदर और झरावा के ग्रामीण कई वर्षों से कौआकोल के पचंबा में अपना मतदान का इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि वहां के ग्रामीणों का बूथ पंचम्भा में कई वर्ष पहले शिफ्ट कर दिया गया था.

वर्ष 2014 लोकसभा चुनाव में नक्सलियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ होने के कारण बूथ को बदल दिया गया था क्योंकि नक्सलियों के द्वारा चुनाव कार्य में लगातार बाधा पहुंचाई जा रही थी. इसी कारण जिला प्रशासन को बहुत पहले ही बूथ को ट्रांसफर करना पड़ा और आज स्थिति यह है कि सड़क मार्ग से जुड़ा नहीं होने के कारण आज भी लोग पहाड़ियों का रास्ता ही तय कर हर काम के लिए पहुंचते हैं और आज वोट करने के लिए भी लोग उन्ही पहाड़ियों का रास्ता तय कर पहुंचे हैं.

मतदान करने के बाद लोग आराम फरमाते नजर आए क्योंकि फिर से उन्हें अपने घर वापस लौटना है।सड़क मार्ग से अगर वह सभी आते हैं तो जमुई होकर कुल 40 किलोमीटर लंबे सफर का फासला तय करना पड़ता है इसलिए लोग पहाड़ियों का ही रास्ता अपनाते हैं. ग्रामीण टिकैत सिंह, सरस्वती देवी, कंचन देवी, सुखदेव प्रसाद की मांग है कि कम से कम सड़क मार्ग को दुरुस्त कर दिया जाए ताकि लोग आसानी ने अपने गंतव्य तक पहुंच सके.

Tags: Bihar News, Bihar Panchayat Chunaw, Bihar panchayat elections, PATNA NEWS

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर