Home /News /bihar /

राजकपूर नहीं देखना चाहते थे मनोज कुमार की तरक्की : संगीतकार संतोष आनंद

राजकपूर नहीं देखना चाहते थे मनोज कुमार की तरक्की : संगीतकार संतोष आनंद

मशहूर गीतकार संतोष आनंद ने रविवार को पटना में एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि राजकपूर मशहूर कलाकार मनोज कुमार को कमजोर करना चाहते थे. मैं राजकपूर के साथ काम नहीं करना चाहता था. लेकिन फिर भी मैंने उनके साथ काम किया.

    मशहूर गीतकार संतोष आनंद ने रविवार को पटना में एक बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने कहा कि राजकपूर मशहूर कलाकार मनोज कुमार को कमजोर करना चाहते थे. मैं राजकपूर के साथ काम नहीं करना चाहता था. लेकिन फिर भी मैंने उनके साथ काम किया.

    संतोष आनंद ने बताया कि मनोज कुमार एक बहुत ही उम्दा कलाकार थे और उस दौर में उनकी अपनी एक अलग पहचान थी और राज कपूर भी एक बड़े निर्देशक थे लेकिन राज कपूर नहीं चाहते थे कि मनोज कुमार भी एक अभिनेता और निर्देशक बनकर उभरें.

    एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पटना पहुंचे संतोष आनंद ने कार्यक्रम में उनका तालियों के साथ स्वागत किया है. उन्होंने वहां मौजूद संगीत प्रमियों को अपने सुनहरे गीत सुनाकर मंत्रमुग्ध कर दिया.

    संतोष आनंद ने बताया कि उन्होंने अपना फिल्मी कैरियर की शुरूआत अभिनेता मनोज कुमार की सन 1970 मे रिलीज़ हुई फिल्म पूरब और पश्चिम से शुरु हुई.

    1974 में रिलीज और लक्ष्मीकांत –प्यारेलाल के संगीत से सुसज्जित रोटी कपडा और मकान के गीत उन्होंने लिखे. 'पुरब और पश्चिम' के बाद मनोज कुमार ने एक बार फ़िर संतोष आनंद पर भरोसा किया और 'रोटी कपडा और मकान' के लिए गीत लिख कर संतोष ने फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार जीता और फ़िल्म के गीत 'मै ना भूलूंगा' के लिए 1974 का बेस्ट गीत का पुरस्कार मिला.

    मशहूर गीतकार संतोष आनंद ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भी तारीफ की. उन्होंने कहा कि जब बिहार-झारखंड एक साथ तब वो कई बार बिहार के दौरे पर आये थे. बिहार की सड़कें अच्छी हो गई है. उन्होंने एक सवाल पर कहा कि अगर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात उनके बुलाने पर मुलाकात कर सकते हैं.

    Tags: Bihar News, Manoj kumar, PATNA NEWS

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर