होम /न्यूज /बिहार /जब्त ट्रकों को पुलिस कस्टडी से लेकर भाग निकले बालू माफिया, SP ने पांच को किया सस्पेंड

जब्त ट्रकों को पुलिस कस्टडी से लेकर भाग निकले बालू माफिया, SP ने पांच को किया सस्पेंड

बिहार के नवादा में एसपी ने पांच पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है

बिहार के नवादा में एसपी ने पांच पुलिसवालों को सस्पेंड कर दिया है

Policemen Suspend: SP को शिकायत मिली थी कि पुलिसवालों की मिली भगत से तस्कर जब्त किये गए ट्रकों को लेकर भाग निकले हैं. ज ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

पुुलिस की लापरवाही और मिलीभगत का ये मामला नवादा जिला का है
इस केस में एसपी डॉ गौरव मंगला ने रोह थानाध्यक्ष समेत 5 पुलिसकर्मी को निलंबित कर दिया है
सभी गाड़ियों को 23 सितंबर को जब्त किया गया था.

नवादा. बिहार के नवादा जिला में पुलिसकर्मियों के खिलाफ एसपी ने बड़ी कार्रवाई की है. एसपी डॉ गौरव मंगला ने रोह थानाध्यक्ष समेत 5 पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है. बालू लदे दो ट्रकों जिनको जब्त किया गया था को थाना से लेकर भागने के मामले में एसपी डॉ गौरव मंगला ने ये कड़ा एक्शन लिया है. उन्होंने संबंधित रोह थाना के थानाध्यक्ष रवि भूषण सहित पांच पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया है.

थानाध्यक्ष के अलावा ओडी अफसर एसआई लक्ष्मण यादव, संतरी ड्यूटी में तैनात बीएमपी जवान युवराज और दो चौकीदारों सहदेव राजवंशी और मृत्युंजय कुमार को कर्तव्य में लापरवाही के आरोप में निलाबित कर दिया है.

क्या था पूरा मामला

दरअसल खनन विभाग के इंस्पेक्टर अमित कुमार ने रोह थाना की पुलिस की मदद से शुक्रवार 23 सितंबर को बालू लदे 4 ट्रक, 7 ट्रैक्टर, एक जेसीबी सहित डेढ़ दर्जन वाहनों को अवैध खनन और परिवहन के मामले में जब्त किया था. दो लोगों लखीसराय जिला के पिपरिया थाना के डोलीपुर निवासी अजीत कुमार पिता संजीव कुमार और नवादा जिले के काशीचक थाना के दौलाचक निवासी चंदन कुमार पिता राम रतन सिंह को गिरफ्तार किया गया था.

DSP ने की थी जांच

जब्त वाहनों को थाना को सुपुर्द कर दिया गया था तथा एफआईआर कांड संख्या 285/22 दर्ज कराया गया था. इस मामले में जब्त 2 ट्रक BR 02 AA 0132 और BR 53C 6266 को लेकर चालक और मालिक 23 सितंबर की रात को ही लेकर फरार हो गए थे. थाना के समीप बने पंचायत सरकार भवन के परिसर में लगे दोनों ट्रकों को माफिया ले भागे थे. मामला सार्वजनिक होने के बाद डीएसपी सदर उपेंद्र प्रसाद से मामले की जांच करवाई गई थी.

डीएसपी की जांच में दोषी पाए जाने वाले थानाध्यक्ष सहित पांच पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की गई है. ट्रक चोरी के मामले में अलग से प्राथमिकी 287/22 भी दर्ज की गई है. एसपी की इस कार्रवाई से बालू धंधे में लिप्त लोगों और इसे संरक्षण देने वाले पुलिस अफसरों में हड़कंप मच गया है, वहीं भ्रष्ट पुलिसकर्मियों के ऊपर बड़ी कार्रवाई होने के बाद लोग नवादा एसपी डॉ गौरव मंगला की प्रशंसा कर रहे हैं.

Tags: Bihar News, Nawada news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें