Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    स्टार क्रिकेटर ईशान किशन ने अपने पैतृक घर नवादा में घरवालों के साथ मनाया छठ, दौरा लेकर पहुंचे घाट

    नवादा में ईशान किशन ने मनाया छठ
    नवादा में ईशान किशन ने मनाया छठ

    छठ के पहले दिन से ईशान किशन (Ishaan Kishan) अपने घर छठ मनाने के लिए घर पहुंचे. आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद वो सीधे छठ मनाने के लिए घर आये.

    • News18Hindi
    • Last Updated: November 21, 2020, 7:09 AM IST
    • Share this:
    नवादा. लोक आस्था के महापर्व छठ (Chhath) की महिमा ऐसी है कि आम से लेकर खास तक इस पर्व को बड़े ही श्रद्धा से इस पर्व को मनाते हैं. चार दिनों तक चलने वाला यह पर्व बहुत ही भक्ति एवं नियम के साथ की जाती है. क्या बड़े,  क्या छोटे सभी इसकी महिमा के आगे नतमस्तक हो जाते हैं. घर से चाहे वो कितनी भी दूर हो छठ के लिए घर जरूर पहुंचते हैं. सभी इसके महिमा के आगे नतमस्तक हो जाते हैं. कुछ ऐसा ही नजारा नवादा में देखने को मिला स्टार क्रिकेटर और नवादा के लाल ईशान किशन (Ishaan Kishan) ने अपने पूरे परिवार के साथ छठ त्योहार में शामिल होने नवादा पहुंचे. कोरोना के कारण वो छठ घाट न जाकर घर के छत पर बने ही घाट पर अर्ध्य दिया.

    माता पिता को छठ में मदद करने नवादा पहुंचे ईशान किशन
    छठ के पहले दिन से ईशान अपने घर छठ मनाने के लिए घर पहुंचे.आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद वो सीधे छठ मनाने के लिए घर आये. माता सुचित्रा और पिता प्रणव पांडेय कई सालों से छठ करते आ रहे हैं. ईशान भी कई सालों के बाद छठ में अपने घर पहुंचे. उन्होंने कहा कि छठ पर घर आने पर बहुत खुशी मिल रही है. उन्होंने छठ को महान पर्व बताया.

    बाहर रहने वाले घर आकर छठ महापर्व का हिस्सा जरूर बनें
    एक सवाल पर ईशान ने कहा कि छठ पर्व अपने आप मे बहुत ही बड़ा और महान पर्व है. सभी पर्व से इसकी महत्ता कहीं अधिक है. इसलिए अगर आप घर से दूर है तो छठ के मौके पर अपने घर जरूर पहुंचें और परिवार के साथ यह पर्व मनाएं. अपने परिवार की सेवा करने का मौका भी इस पर्व में मिलता है।खेल के कारण अक्सर घर से दूर रहना होता है, इसलिए थोड़े से ही वक़्त के लिए सही लेकिन,  इस पर्व का हिस्सा जरूर बनें.



    ईशान को टीम इंडिया में मिले जगह यही मांगा छठी मइया से वरदान
    शहर की मशहूर डॉक्टर एवं ईशान की दादी डॉक्टर सावित्री शर्मा ने बताया कि उन्हें बहुत अच्छा लग रहा है कि ईशान काफी लंबे वक्त के बाद छठ में नवादा आया है. नवादा उसका खेल के बाद आना होता है मगर छठ में वो अपने माता पिता के साथ है. इस बार उन्होंने छठी मैया से यह वरदान मांगा है कि ईशान को जल्द से जल्द टीम इंडिया में जगह मिले ताकि वो देश का नाम रौशन कर सके. आईपीएल में उसने मुम्बई इंडियन के लिए काफी अच्छा खेल का प्रदर्शन किया था.

    आगले पांच साल तक शादी की डोर में नहीं बंधना चाहते ईशान
    शादी को लेकर जब ईशान से सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हर कोई चाहता है कि उसकी शादी हो मगर अभी वो अगले पांच सालों तक शादी के बंधन में नही बंधना चाहते हैं. क्योंकि इस वक़्त उनका सारा ध्याम क्रिकेट पर ही और उसे दिन पर दिन बेहतर करने के लिए लगातार कड़ी मेहनत कर रहे हैं. इसलिए शादी के बारे में उनका फिलहाल कोई खयाल नही है. वहीं ईशान की दादी ने कहा कि बड़े पोते की शादी इसी साल हुआ है इसलिए वो चाहती है कि दूसरी बहु भी जल्द से जल्द इस घर मे आये.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज