जान से खिलवाड़: बस की सीट फुल हुई तो स्कूल के बच्चों को छत पर बिठा कर ले गए टूर

बस की छत पर सवार स्कूली बच्चे
बस की छत पर सवार स्कूली बच्चे

बच्चों ने पूछने पर बताया कि शिक्षकों ने उन्हें ऐसे ही बैठने को बताया है और बस के अंदर जगह नहीं होने के कारण उन्हें छत पर बैठना पड़ रहा है

  • Share this:
बिहार में स्कूली बच्चों की जान के साथ खिलवाड़ की एक तस्वीर सामने आई है. यहां स्कूल टूर के नाम पर बच्चों को बस की छत पर बिठा दिया गया. दरअसल सर्दी का मौसम शुरू होते हैं सरकारी स्कूल के बच्चों को बिहार के विभिन्न क्षेत्रों में शैक्षणिक भ्रमण पर ले जाने का दौर शुरू हो गया है.

बच्चों के साथ लापरवाही का ये मामला नवादा से जुड़ा है जहां रोह प्रखंड के ताजपुर स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के छात्र-छात्राओं को बस की छत पर बिठाकर सफर करते हुए देखा गया. बच्चों ने पूछने पर बताया कि शिक्षकों ने उन्हें ऐसे ही छत पर बैठने के लिए कहा है और बस के अंदर जगह नहीं होने के कारण उन्हें ऊपर बैठना पड़ रहा है. दूसरी तरफ शिक्षकों से जब इस मामले में पूछा गया तो वो बातों को टालते हुए दिखे और दूसरे बस से बच्चों को बिठाने की व्यवस्था की बात कही जबकि तस्वीर में स्पष्ट दिखा की बच्चे बस की छत पर सवार हैं.

ये भी पढ़ें- प्रेमिका ने दुपट्टे से कर डाली प्रेमी की हत्या, सुसाइड का रूप देने के लिए हाथ में थमाया लव लेटर



बिहार के सरकारी स्कूलों में शैक्षणिक भ्रमण में छात्रों को ऐतेहासिक एवं पाठ्यक्रम से जुड़ी स्थलों का भ्रमण कराया जाता है मगर भ्रमण के दौरान विद्यालय प्रबंधन के द्वारा छात्रों के सुरक्षा मानकों की अनदेखी की जा रही है. इससे पहले पटना में ही बच्चों को स्कूल के टूर के दौरान सड़क किनारें रात गुजारनी पड़ी थी. नवादा की इस घटना ने एक बार फिर से साबित कर दिया है कि सुरक्षा मानकों की परवाह किए बगैर विद्यालय प्रबंधन बच्चों को शैक्षणिक भ्रमण पर ले जा रहे हैं.
रिपोर्ट- अनिल विशाल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज