लाइव टीवी

BPSC के नतीजों में नवादा का जलवा, टॉप 100 में चार युवाओं ने बनाई जगह

News18 Bihar
Updated: October 15, 2019, 12:28 PM IST
BPSC के नतीजों में नवादा का जलवा, टॉप 100 में चार युवाओं ने बनाई जगह
बीपीएससी की परीक्षा के नतीजे सोमवार को जारी किए गए हैं

बीपीएससी (BPSC Result) की 63वीं परीक्षा के नतीजे जारी कर दिए गए हैं. इस परीक्षा में टॉपर (BPSC Topper) बनने का श्रेय श्रेयांस तिवारी को गया है वहीं अनुराग सेकेंड टॉपर, मिराज जमील थर्ड और सुनिधि फोर्थ टॉपर बनी हैं

  • Share this:
नवादा. बिहार प्रशासनिक सेवा यानी बीपीएससी (BPSC) की परीक्षा के नतीजे सोमवार को जारी किए गए. 63वीं बीपीएससी की फाइनल परीक्षा में बिहार के नवादा (Nawada) जिले के युवाओं का शानदार प्रदर्शन रहा है. इस जिले के कई छात्र-छात्राओं ने प्रतिष्ठित परीक्षा में सफलता हासिल कर जिले का मान बढ़ाया है. कईयों ने तो प्रथम प्रयास में ही इस परीक्षा को पास करने में सफलता हासिल की है. टॉप हंड्रेड में इस बार जिले के चार प्रतिभागियों ने सफलता हासिल की है.

पहले ही प्रयास में सफल हुईं अर्चना

टॉप टेन में छठा रैंक प्राप्त कर अर्चना कुमारी ने पहले ही प्रयास में सफलता हासिल की है. वो मूलतः नारदीगंज के पड़रिया गांव के रहने वाले रिटायर्ड हेडमास्टर राजेन्द्र प्रसाद की पुत्री हैं. अर्चना की प्रारंभिक शिक्षा घर से हुई जिसके बाद उन्होंने जेएनयू से इकोनॉमिक्स से ग्रेजुएशन किया और दिल्ली में इस परीक्षा के लिए सेल्फ स्टडी की. इसे पाने के लिए उन्होंने कोई भी ट्यूशन की मदद नहीं ली. अर्चना को श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी का पद प्राप्त हुआ है.

डीएसपी बने सुबोध

शिवचरण बिगहा निवासी बृजनंदन चौहान के पुत्र सुबोध कुमार सिन्हा ने 49वा रैंक लाया है. उन्हें डीएसपी का पोस्ट मिला है. गांव से पढ़ाई करने के बाद वो बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी चले गए जहां स्नातक के द्वितीय खंड से ही उन्होंने सिविल सर्विसेज की तैयारी शुरू कर दी और आज अपनी मंजिल में सफलता हासिल की है. उनके रिजल्ट से पूरे गांव में खुशी का माहौल है.

दीपिका को मिला 59वां रैंक

दीपिका कुमारी को इस बार 59वा रैंक प्राप्त हुआ है. वो नगर के पटेल नगर निवासी प्रेम रंजन प्रसाद की पुत्री हैं. उनके पिता गंगा रानी सिन्हा कॉलेज में हेड क्लर्क है और मां शिक्षिका हैं. इस बार उन्होंने इस परीक्षा को पास कर कमर्शियल टैक्स ऑफिसर पद हासिल किया है. टॉप हंड्रेड में नवादा के ही रजौली के सोनल कुमार को 72वा रैंक प्राप्त हुआ है.
Loading...

फैशन डिजाइनिंग के बाद क्रैक किया बीपीएससी

सोनल मूल रूप से रजौली बाजार के रहने वाले हैं और उनके पिता गोपाल प्रसाद वीर दाल मिल चलाते हैं. रजौली से मैट्रिक व इंटर की परीक्षा पास कर ग्रेजुएशन फैशन डिजाइनिंग से किया और पहले ही प्रयास में उन्होंने बीपीएससी में सफलता हासिल की. उन्हें कमर्शियल टैक्स असिस्टेंट का पद हासिल हुआ है.

गौरव भी बने अधिकारी

इस लिस्ट में अगला कुमार गौरव का है जिनको 211वां रैंक प्राप्त हुआ है. उन्हें श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी का पद प्राप्त हुआ है. उनके पिता राम लखन सिंह यादव कॉलेज के पूर्व प्राचार्य कुलदीप नारायण कलाधर हैं. ये परिवार वर्तमान में वीआईपी कॉलोनी नवादा में रह रहा है.

कुणाल को भी मिली सफलता

नवादा के ही रोह निवासी कुणाल कुमार का चयन भी बीपीएससी में हुआ है. उनके पिता अशोक साव हैं. कुणाल कुमार का चयन श्रम प्रवर्तन पदाधिकारी के पद पर हुआ है और उनका रैंक इस सूची में 368वां है.

रिपोर्ट- अनिल विशाल

ये भी पढ़ें- बिहार में पान खाकर लौट रहे प्रोफेसर की सरेआम गोली मारकर हत्या

ये भी पढ़ें- 7 साल के बच्चे की मौत के बाद अब पटना में BJP के विधायक को भी हुआ डेंगू

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नवादा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 11:38 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...