होम /न्यूज /बिहार /

नीतीश कैबिनेट में 10 लाख सरकारी नौकरी पर नहीं हुई चर्चा, भाजपा ने उठाया सवाल तो तेजस्वी ने दिया जवाब

नीतीश कैबिनेट में 10 लाख सरकारी नौकरी पर नहीं हुई चर्चा, भाजपा ने उठाया सवाल तो तेजस्वी ने दिया जवाब

गिरिराज सिंह ने तेजस्वी यादव द्वारा 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दिए जाने के वादे की याद दिलाई है.

गिरिराज सिंह ने तेजस्वी यादव द्वारा 10 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी दिए जाने के वादे की याद दिलाई है.

Bihar News: वर्ष 2020 के विधान सभा चुनाव प्रचार के दौरान तेजस्वी यादव ने बार-बार यह बात कही थी कि उनकी कैबिनेट की पहली बैठक में 10 लाख युवाओं को नौकरी दिए जाने का फैसला किया जाएगा. मंगलवार को जब नई सरकार की पहली कैबिनेट मीटिंग हुई तो इसमें रोजगार के मुद्दे पर चर्चा नहीं हुई. अब इसपर भाजपा सवाल उठा रही है. तेजस्वी यादव ने भी पलटवार किया है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

बिहार में भाजपा और राजद के बीच रोजगार के मुद्दे पर राजनीति गर्म
भाजपा ने 10 लाख सरकारी नौकरियों को लेकर तेजस्वी से सवाल पूछा
तेजस्वी यादव ने भाजपा के 2 करोड़ रोजगार के वादे की याद दिलाई

पटना. बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार ने पूरी तरीके से सत्ता संभाल ली है. मंगलवार को कैबिनेट का विस्तार भी हो गया और सभी मंत्रियों ने अब लगभग कामकाज संभाल लिया. नीतीश कुमार की नई कैबिनेट की पहली बैठक भी हुई, मगर इसमें केवल एक एजेंडे पर ही चर्चा हुई. इसी बात को लेकर विपक्षी भारतीय जनता पार्टी ने तेजस्वी यादव को घेरना शुरू कर दिया है क्योंकि कैबिनेट बैठक में बिहार के युवाओं को 10 लाख सरकारी नौकरी दिए जाने को लेकर कोई चर्चा नहीं हुई. जाहिर है रोजगार के मुद्दे पर भाजपा और महागठबंधन के नेताओं के बीच तकरार बढ़ गई है.

बता दें कि भाजपा ने तेजस्वी यादव द्वारा 2020 के बिहार विधानसभा चुनाव में 10 लाख युवाओं को रोजगार देने का मुद्दा प्रमुखता से उठाया है. भाजपा नेताओं की लगातार कोशिश है कि इस मुद्दे पर तेजस्वी यादव को घेरा जाए. बीजेपी नेता व केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने इसको लेकर कई सवाल उठाए हैं और पूछा है कि युवाओं को 10 लाख सरकारी नौकरी दिए जाने के फैसले का क्या हुआ? उधर; उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने रोजगार के इसी मुद्दे पर भाजपा को ही कटघरे में खड़ा करना शुरू कर दिया है.

स्वास्थ्य विभाग का कामकाज संभालने के बाद पटना में मंगलवार को पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा ने हर साल 2 करोड़ लोगों को रोजगार देने का वादा किया था. लेकिन; उस वायदे का क्या हुआ? भाजपा नेताओं को यह बताना चाहिए कि बिहार में भाजपा ने 19 लाख लोगों को जॉब देने का वादा किया था. भाजपा के लोग लगभग 2 साल तक सत्ता में रहे, उनमें से कितने लोगों को रोजगार दिया, बताना चाहिये.

तेजस्वी यादव ने कहा कि भाजपा वाले अपना वादा पूरा नहीं करते हैं और दूसरे पर आरोप लगाते हैं. तेजस्वी ने जोर देकर कहा कि रोजगार देने का वादा हमलोग ही पूरा करेंगे. उपमुख्यमंत्री ने कहा कि स्वतंत्रता दिवस के मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ऐतिहासिक गांधी मैदान से 10, 00000 की बजाय 20, 00000 युवाओं को रोजगार और नौकरी देने की बात कही है. मुख्यमंत्री का यह फैसला सूबे को विकास के नए रास्ते पर ले जाएगा.

बता दें कि तेजस्वी यादव ने अपने ट्विटर अकाउंट पर भी रोजगार से संबंधित पोस्ट डाला है. उन्होंने लिखा है कि नीतीश कुमार के साथ आने पर विगत दो वर्षों में पहली बार हिंदू-मुसलमान, मंदिर-मस्जिद को छोड़कर नौकरी, रोजगार पर सकारात्मक चर्चा हो रही है. यह हमारी उपलब्धि है. मीडिया से बातचीत करते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री ने रोजगार के सवाल पर सकारात्मक बात की है.

Tags: Bihar new train, Bihar politics, Giriraj singh, RJD leader Tejaswi Yadav

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर