Covid-19 Update : बिहार में 1555 नए मामले सामने आए, एक दिन में रिकॉर्ड 1.76 लाख सैंपल की जांच हुई

बिहार में अब तक ठीक होने वाले लोगों की संख्या 1,54,443 है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
बिहार में अब तक ठीक होने वाले लोगों की संख्या 1,54,443 है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

स्वास्थ्य विभाग (health Department) के बुलेटिन में कहा गया कि कोविड-19 से 1,487 मरीज ठीक हुए और अब तक ठीक होने वाले लोगों की संख्या 1,54,443 है. बिहार में मरीजों के ठीक होने की दर 91.63 प्रतिशत है.

  • भाषा
  • Last Updated: September 20, 2020, 11:57 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) में कोरोना वायरस (Coronavirus) के 1,555 नए मामलों का पता चलने के बाद कोरोना संक्रमण (Corona Infection) के कुल मामले 1,68,541 हो गए, जबकि राज्य में एक दिन में रिकॉर्ड 1.76 लाख नमूनों की जांच हुई. स्वास्थ्य विभाग (health Department) ने रविवार को बुलेटिन (Bulletin) में यह जानकारी दी. आज शाम जारी बयान में कहा गया कि पिछले 24 घंटों में संक्रमण के कारण 3 मौतें हुईं. पटना (Patna), बेगूसराय (Begusarai) और समस्तीपुर (Samastipur) जिलों में एक-एक मौत हुई है. मृतकों की संख्या 864 हो गई. बुलेटिन में कहा गया कि कोविड-19 से 1,487 मरीज ठीक हुए और अब तक ठीक होने वाले लोगों की संख्या 1,54,443 है. बिहार में मरीजों के ठीक होने की दर अभी 91.63 प्रतिशत है. वर्तमान में राज्य में 13,234 मरीजों का इलाज चल रहा है.

24 घंटों में कोविड-19 के लिए 1,76,511 नमूनों की जांच

पिछले 24 घंटों में कोविड-19 के लिए 1,76,511 नमूनों की जांच की गई, जिससे राज्य में अब तक हुई जांचों की संख्या 57 लाख से अधिक हो गई है. बुलेटिन के मुताबिक, 1,555 नए मामलों में पटना जिले से 209, मुजफ्फरपुर से 101, सुपौल से 93 और पूर्वी चंपारण और पूर्णिया से 73-73 मामले आए हैं. इस बीच, मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन और रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (DRDO) ने लोगों से आग्रह किया कि वे हाल ही में रक्षा एजेंसी द्वारा स्थापित कोविड-19 अस्पताल में अपना इलाज कराएं.



डीआरडीओ द्वारा निर्मित 500 बिस्तरों वाला अस्पताल शुरू
जिला प्रशासन के एक बयान में कहा गया है कि मुजफ्फरपुर शहर में डीआरडीओ द्वारा निर्मित 500 बिस्तरों वाले अस्पताल ने 7 सितंबर से काम करना शुरू कर दिया था, लेकिन अब तक केवल 70 मरीजों को ही भर्ती किया गया है.

यूपी के गाजियाबाद में 30 सितंबर तक धारा-144

इस बीच उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में 30 सितंबर 2020 तक धारा-144 (Section -144) की अवधि बढ़ा दी गई है. त्योहारों, विभिन्न परीक्षाओं एवं कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को देखते हुए प्रशासन ने ये कदम उठाया है. आगामी 30 सितंबर तक गाजियाबाद में धारा 144 का उल्लंघन करने पर कानूनी कार्रवाई होगी. गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने यह नया आदेश जारी किया है. नए आदेश में कहा गया है कि सैलून, मॉल, स्पॉ, जिम, खेल कांप्लेक्स, स्वीमिंग पूल जिला प्रशासन के गाइडलाइंस के मुताबिक खुलेंगे. चार पहिया वाहन में चालक के अतिरिक्त दो व्यक्ति और दो पहिया वाहन पर दो व्यक्ति ही बैठ सकते हैं. वहीं, जिले के स्कूल और कॉलेज अग्रिम आदेशों तक बंद रहेंगे. जिले के अंदर सार्वजनिक स्थानों पर थूकना दंडनीय अपराध होगा. पकड़े जाने पर फाइन भी वसूला जाएगा. सार्वजनिक जगहों पर बिना फेस कवर और मास्क के जाना दंडनीय अपराध होगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज