बिहार में टूटा कोरोना का रिकॉर्ड, 24 घंटे में 15853 नए संक्रमित मरीज

बिहार में कोरोना संक्रमण तेजी से अपने पैर पसार रहा है. (कॉन्सेप्ट इमेज.)

बिहार में कोरोना संक्रमण तेजी से अपने पैर पसार रहा है. (कॉन्सेप्ट इमेज.)

हर दिन बढ़ते जा रहे सूबे में Corona संक्रमित, पटना में एक दिन में मिले 2844 नए मरीज, लगातार बढ़ रही महामारी के चलते सरकार चिंतित.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 30, 2021, 8:35 PM IST
  • Share this:
पटना. ‌बिहार में कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है. अब पिछले 24 घंटे 15853 नए संक्रमित मरीज मिले हैं. ये कोरोना की दूसरी लहर में अब तक राज्य में मिले संक्रमित मरीजों की सबसे बड़ी संख्या है. वहीं पटना में सबसे ज्यादा 2844 मरीज मिले हैं. इससे एक दिन पहले सूबे में 13374 कोरोना के नए मरीज मिले थे. वहीं 84 लोगों की मौत हो गई थी. अब हालात और बिगड़ते जा रहे हैं और लगातार कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है. बड़े जिलों पर नजर डाली जाए तो एक दिन में बेगूसराय में 786, गया में 1203, मुजफ्फरपुर में 638, समस्तीपुर में 500, वेस्ट चम्पारण में 573 और नालन्दा में 881 लोग इस संक्रमण की चपेट में आ गए हैं.

दरअसल, पूरे बिहार में धारा 144 लागू किए जाने और नाइट कर्फ्यू सहित तमाम सख्ती के बाद भी बिहार में कोरोना का संक्रमण का दायरा बढ़ता ही जा रहा है. गुरुवार शाम तक राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या एक लाख के पार हो गयी. राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़ कर एक लाख 821 तक पहुंच गई है. वहीं, रिकवरी दर भी थोड़ी बढ़ कर 77.27% हो गयी है. संक्रमण दर भी बढ़ कर 13.36% हो गया है.

29 दिन में बढ़ गए 53 गुना मरीज

गौरतलब है कि कोरोना की दूसरी लहर में महज 29 दिनों में ही 53 गुना मरीज बढ़ गए हैं. विगत 1 अप्रैल को राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 1907 थी, जो 15 अप्रैल को 25 हजार और 20 अप्रैल को 50 हजार को पार कर गई. अब यह संख्या एक लाख 821 हाे गई है. इस तरह 29 दिनों में एक्टिव मरीजों की संख्या में लगभग 53 गुना बढ़ोतरी हुई है.
पूरे बिहार में लागू है धारा 144

वहीं, बिहार में बुधवार को आपदा प्रबंधन समूह की बैठक में लोगों के मूवमेंट को कम करने के लिए सभी दुकानें और कारोबारी प्रतिष्ठान शाम 4 बजे ही बंद करने का फैसला किया गया. पहले यह छूट शाम 6 बजे तक थी. नाइट कर्फ्यू अब रात 9 बजे की बजाय शाम 6 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू लागू है. यह आदेश अगले 15 मई तक के लिए है, पर कोरोना की तेज रफ्तार देख शुक्रवार को मंत्रिमंडल की होने वाली अहम बैठक में सख्त निर्णय लिए जाने की संभावना है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज