एक्शन में नीतीश सरकार, कई जिलों के कप्तान सहित 17 IPS इधर से उधर

बिहार में कानून-व्यवस्था की बिगड़ी हालत को लेकर नीतीश सरकार एक्शन में आ गई है. राज्य में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किया गया है.


Updated: June 14, 2019, 9:16 PM IST
एक्शन में नीतीश सरकार, कई जिलों के कप्तान सहित 17 IPS इधर से उधर
बिहार की नीतीश सरकार ने कानून-व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किए हैं.

Updated: June 14, 2019, 9:16 PM IST
बिहार में कानून-व्यवस्था की बिगड़ी व्यवस्था को लेकर नीतीश सरकार एक्शन में आ गई है. राज्य में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का बड़े पैमाने पर ट्रांसफर किए गए हैं. कानून-व्‍यवस्‍था को दुरुस्‍त करने की कवायद के तहत 17 IPS अधिकारियों का ट्रांसफर किया गया है. पुलिस मुख्यालय से लेकर जिलों तक में फेरबदल किए गए हैं. जितेंद्र कुमार को ADG (मुख्यालय) बनाया गया है, तो एनएच खान की तैनाती IG (मुख्यालय) के तौर पर की गई है.

लिस्ट इस प्रकार है:



जितेंद्र कुमार- ADG पुलिस मुख्यालय
एनएच खान- आईजी मुख्यालय पटना

कुंदन कृष्ण- ADG सह अपर असैनिक सुरक्षा आयुक्त
विकास बर्मन- समस्तीपुर के एसपी
जितेंद्र कुमार- सिटी एसपी पटना ईस्ट
Loading...

सुशील कुमार- एसपी लखीसराय
अरविंद कुमार गुप्ता- बांका एसपी
राजीव रंजन (1)- अरवल के एसपी
राजेन्द्र कुमार (2)- एसपी बगहा
कार्तिकेय के. शर्मा- विशेष शाखा पटना के एसपी
राजेन्द्र कुमार भील - BSPB बगहा के कमांडेंट
ए के अम्बेडकर - ADG तकनीकी सेवाएं एवं वितन्तु
बी श्रीनिवासन - ADG एस.सी.आर.बी एवं आधुनिकीकरण
गणेश कुमार - डीआईजी मुजफ्फरपुर
उमाशंकर प्रसाद - एसपी ATS
हरप्रीत कौर - कमांडेंट BMP-5 पटना

लॉ एंड ऑर्डर पर सरकार की चिंता
बिहार में हाल के समय में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ी दिखी है. माना जा रहा है कि राज्य सरकार ने यह कदम इसी के तहत उठाया है. शुक्रवार को ही खबर आई है कि बेगूसराय में बेखौफ अपराधी ने सरेआम एक डॉक्टर को मिट्टी में मिला देने की धमकी दी है. इस धमकी के बाद से डॉक्टर का परिवार इतना डरा है कि वह अपने घर में ही नजरबंद हो गया है. इसके अलावा रेप और हिंसा की भी कई घटनाएं हुई हैं.

ये भी पढ़ें:

बिहार: नीतीश के गृह जिले नालंदा में नहीं है कोई कोचिंग सेंटर! पढ़िये क्या है कारण
तीन तलाक बिल पर बोली JDU- विरोध करने के अलावा कोई चारा नहीं
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...