लाइव टीवी

कुर्सी पर बैठने को लेकर हुए विवाद में 5वीं के स्टूडेंट की पीट-पीटकर हत्या

News18 Bihar
Updated: November 14, 2019, 9:21 AM IST
कुर्सी पर बैठने को लेकर हुए विवाद में 5वीं के स्टूडेंट की पीट-पीटकर हत्या
पटना में मासूम की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अंकित मां-बाप का इकलौता चिराग था. वह जिस रात घर से जागरण देखने गया उस दिन उसके माता-पिता (Parents) घर में मौजूद नहीं थे. वे पटना (Patna) से बाहर गए हुए थे.

  • Share this:
पटना. राजधानी में एक बच्चे की पीट-पीटकर हत्या (beaten-to-death) कर दी गई है. घटना जक्कनपुर थाना (Jakkanpur Thana) क्षेत्र के पुरंदरपुर इलाके के भरत लाल टेंट हाउस गली की है. बताया जा रहा है कि मोहल्ले में जागरण कार्यक्रम (Jagran Programme) के दौरान कुर्सी पर बैठने को लेकर विवाद हो गया था. इसपर पांचवीं के छात्र अंकित की बर्बरता से पिटाई की गई, जिससे उसकी मौत हो गई.

इस दिल दहला देने वाली घटना में अंकित का चचेरा भाई सूरज भी घायल है. घटना के बाद परिजनों में कोहराम मच गया है. दूसरी तरफ, पुलिस का दावा है कि घटना में शामिल 8 लोगों की पहचान कर ली गई है. आरोपियों के बारे में बताया जा रहा कि वे छपरा कॉलोनी के रहने वाले हैं.

घटना के वक्‍त माता-पिता नहीं थे मौजूद
बता दें कि अंकित मां-बाप की इकलौती संतान था. वह जिस रात घर से जागरण देखने गया उस दिन उसके माता-पिता घर में मौजूद नहीं थे. जानकारी के मुताबिक, वे पटना से बाहर गए हुए थे. उन्हें अपने बच्चे के बारे में खबर मिली तो वे भागकर पटना पहुंचे, जहां उन्‍हें बेटे की मौत की ही खबर मिली.

पटना में मासूम की हत्या. मृत छात्र अंकित की फाइल तस्वीर.


आगे की कुर्सी पर बैठने को लेकर हुआ विवाद
बताया जा रहा है कि देवी जागरण के समारोह में मंगलवार की रात 14 साल के अंकित और उसके चचेरे भाई 17 साल के सूरज की आगे की कुर्सी पर बैठने को लेकर कुछ युवकों से विवाद हुआ. इसके बाद युवकों ने दोनों चचेरे भाइयों की बुरी तरह पिटाई कर दी और उन्हें मरणासन्न स्थिति में सड़क पर फेंक दिया.परिजनों ने पुलिस को नहीं दी जानकारी
बताया जा रहा है कि परिजनों को सूचना मिली तो वे दोनों भाइयों को लेकर पीएमसीएच चले गए, लेकिन पुलिस को घटना की जानकारी नहीं दी. जानकारी के अनुसार अंकित की मौत के बाद पीएमसीएच प्रबंधन ने टीओपी प्रभारी अमित कुमार को ये सूचना दी. इसके बाद टीओपी प्रभारी ने थानाध्यक्ष को मामले की जानकारी दी.

आरोपियों की पहचान नहीं कर पाए परिजन
इसके बाद अंकित के घर का पता लेकर पुलिस ने परिजनों से मुलाकात की और आरोपितों की पहचान कराने को कहा, लेकिन वे नहीं बता सके कि दोनों को किसने मारा? हालांकि जक्कनपुर थानाध्यक्ष मुकेश वर्मा ने बताया कि आरोपितों की शिनाख्त कर गिरफ्तारी सुनिश्चित कराई जाएगी.

इनपुट- संजय कुमार

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 7:45 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर