लाइव टीवी

पटना में जलजमाव पर नीतीश सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, 8 IAS अधिकारियों का किया तबादला

News18 Bihar
Updated: October 15, 2019, 10:05 PM IST
पटना में जलजमाव पर नीतीश सरकार ने की बड़ी कार्रवाई, 8 IAS अधिकारियों का किया तबादला
बिहार में 8 आईएस अधिकारियों का तबादला हुआ है. (File Photo)

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने सोमवार की शाम में लगातार चार घंटे तक बैठक की थी. इसमें उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) सहित मुख्य सचिव, विकास आयुक्त और आला अधिकारी मौजूद थे.

  • Share this:
पटना. बीते 27 सितंबर से 29 सितंबर के बीच राजधानी पटना (Patna) में हुई मूसलाधार बारिश (Heavy Rainfall) ने शहर से जलनिकासी की तमाम व्यवस्थाओं को ध्वस्त कर दिया था. आलम यह रहा कि एक सप्ताह तक पटना के कई मोहल्लों में भारी जलजमाव (Water Logging) के कारण जनजीवन बुरी तरह प्रभावित रहा. आज भी कई इलाकों में जलजमाव की स्थिति है. अब इसको लेकर बिहार सरकार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए भारतीय प्रशासनिक सेवा (Indian Administrative Service) के 8 अधिकारियों का तबादला कर दिया है.

डॉ. दीपक प्रसाद बने कैबिनेट के प्रधान सचिव
चैतन्य प्रसाद की नगर विकास विभाग से छुट्टी कर विज्ञान एवं प्रावैधिकी प्रावैद्यिकी विभाग में भेज दिया गया है. हरजोत कौर को खान एवं भूतत्व विभाग का प्रधान सचिव बनाया गया है. प्रदीप कुमार झा को आईपीआरडी का निदेशक बन गया है. वहीं, अमरेंद्र प्रसाद सिंह को बुडको से हटाकर बिहार राज्य पथ परिवहन निगम का प्रशासक बनाया गया है. चंद्रशेखर सिंह को बुडको का एमडी बनाया गया है.

संजय अग्रवाल को पटना आयुक्त का अतिरिक्त प्रभार और आनंद किशोर को नगर विकास और पटना मेट्रो का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना के बाढ़ग्रस्त इलाके का मुआयना करते हुए (फोटो: पीटीआई)


12 इंजीनियरों पर एक्शन
बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार की शाम में लगातार चार घंटे तक बैठक की. इसमें उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, नगर विकास मंत्री एवं कई अन्य विभागों के मंत्री सहित मुख्य सचिव, विकास आयुक्त और आला अधिकारी बैठक में मौजूद थे.
Loading...

मुख्य सचिव दीपक कुमार ने मुख्यमंत्री की बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हुए बताया था कि जलजमाव के लिए दोषी चिन्हित लोगों में बुडको के मुख्य अभियंता, दो अधीक्षण अभियंता, छह कार्यपालक अभियंता और एक मेकेनिकल कार्यपालक अभियंता, एक सहायक अभियंता मेकेनिकल को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. वहीं, एक सहायक अभियंता को प्रशासनिक आधार पर स्थानांतरित किया गया है.

 

ये भी पढ़ें-

स्याही फेंके जाने पर अश्विनी चौबे का पप्पू पर निशाना, बोले-ये बम भी हो सकता था

अश्विनी चौबे पर स्याही: पप्पू बोले-जनता का गुस्सा, JDU ने कहा-लोकतंत्र पर खतरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 15, 2019, 9:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...