Assembly Banner 2021

COVID-19 Update: बिहार में कोरोना की दूसरी लहर, 24 घंटे में मिले 864 नए मरीज

कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बिहार के स्कूल बंद कर दिए गए हैं (सांकेतिक चित्र)

कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर बिहार के स्कूल बंद कर दिए गए हैं (सांकेतिक चित्र)

Bihar Corona Cases: पटना एम्स के अस्पताल अधीक्षक डॉ. सीएम सिंह ने कहा कि कोरोना का फिर से प्रकोप बढ़ रहा है. इसे देखते हुए एम्स में अब फिर से सीमित संख्या में मरीजों को देखा जाएगा. हर रोज एम्स के प्रत्येक विभाग में 50 मरीजों को ही देखा जाएगा.

  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना वायरस (Corona Cases In Bihar) से फैल रहा संक्रमण बेलगाम होता जा रहा है. संक्रमण की चपेट में रोज नए लोग आ रहे हैं. राज्य में 24 घंटे में एक साथ 864 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. सबसे ज्यादा पटना में 374 मरीज कोरोना संक्रमित (Patna Corona Cases) मिले हैं. वहीं, जहानाबाद में 60 और भागलपुर में फिर से 46 मरीज मिले हैं. हालात असामान्य होता देख जहां स्वास्थ्य विभाग में बैठकों का दौर जारी है, वहीं पटना जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने भी कोरोना संक्रमण की रोकथाम और बचाव के लिए अधिकारियों के साथ बैठक की.

बैठक में टेस्टिंग, टीकाकरण, उपचार, जागरुकता और मास्क चेकिंग में जहां तेजी लाने के निर्देश दिए गए हैं. वहीं, पटना जिले में 103 माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं. जिलाधिकारी ने संबंधित घर पर स्टीकर चिपकाने, स्क्रीनिंग करने, टेस्टिंग, सैनिटाइजेशन की कार्रवाई करने का सख्त निर्देश दिया है. जिलाधिकारी ने शहरी क्षेत्र के वार्डों में कुल 75 टीम का गठन करने का भी निर्देश दिया है, जिसमें स्वास्थ्य कर्मी, नगर निगम कर्मी, आंगनवाड़ी वर्कर को शामिल करने को कहा गया है.

पटना जिले में 24 घंटे में कुल 9279 व्यक्तियों का टेस्ट किया गया, जिसमें 3833 आरटीपीसीआर तथा 5443 रैपीड एंटीजन टेस्ट हुआ. जिलाधिकारी ने आरटीपीसीआर टेस्ट बढ़ाने तथा पीएमसीएच, एनएमसीएच में टेस्ट बढ़ाने के लिए टीम की संख्या एवं काउंटर की संख्या बढ़ाने का भी निर्देश दिया है.



इन अस्पतालों के ओपीडी में नियमित इलाज के लिए आने वाले लोगों को टेस्ट कराने के लिए यूपीएचसी की विशेष टीम की प्रतिनियुक्ति करने और प्रतिदिन 1000 टेस्ट का टारगेट निर्धारित करने का निर्देश जिलाधिकारी ने दिया. पटना जिले में 24 घंटे में 9130 व्यक्तियों का वैक्सीनेशन हुआ है. जिलाधिकारी ने कोविड मरीजों के उपचार की सुचारू एवं सुदृढ़ व्यवस्था के लिए अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाने का निर्देश दिया है.
समीक्षा में पाया गया कि पीएमसीएच में 100 बेड है, जिसमें 36 बेड ही कार्यरत थे. निर्देश के बाद 5 अप्रैल से पीएमसीएच में 100 बेड कार्यरत हो जाएंगे. जिलाधिकारी ने सरकारी तथा प्राइवेट अस्पतालों में भी बेड की समुचित व्यवस्था करने का निर्देश दिया है. कोविड को लेकर एनएमसीएच, पीएमसीएच और एम्स में कंट्रोल रूम का गठन भी किया जाएगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज