बिहार में 500 के करीब हुए कोरोना के केस, पटना एम्स में दो मरीजों ने तोड़ा दम

बिहार सरकार ने फिर से कोरोना के बढते मामलों की समीक्षा की है. (फाइल फोटो)

बिहार सरकार ने फिर से कोरोना के बढते मामलों की समीक्षा की है. (फाइल फोटो)

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने निर्देश देते हुए कहा कि होली पर अन्य राज्यों से लोग वापस बिहार आ रहे हैं. ऐसे में यहां आने और जाने वाले लोगों की विशेष निगरानी रखी जाए.

  • Share this:
पटना. होली से ठीक पहले ही बिहार में कोरोना संक्रमितों (Corona Patients) की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले राज्य सरकार (Bihar Government) के लिए चुनौतियां भी बढ़ाती जा रही हैं. बिहार में फिर से 24 घन्टे में कोरोना के 88 नए मरीज मिले हैं जिसमें सबसे ज्यादा पटना (Patna) में 41 लोग संक्रमित पाए गए हैं, इसके साथ ही राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 472 पहुंच गई है जिसमें पटना सबसे टॉप पर है.

सबसे अधिक 217 एक्टिव मामले पटना में हैं, जहां संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है वहीं अस्पताल में भर्ती मरीजों की भी मौत होने लगी है, 24 घंटे में पटना AIIMS में दो मरीजों की मौत हो गई जिसमें एक पटना सिटी तो  दूसरा गया का संक्रमित मरीज शामिल है. राज्य सरकार के आदेश पर लगातार स्टेशनों, बस स्टॉप, हवाई अड्डों पर कोरोना जांच की जा रही है लेकिन अब भी 70 प्रतिशत लोग लापरवाही से बाज नहीं आ रहे हैं और ना तो मास्क लगा रहे हैं और न ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते नजर आ रहे हैं.

विधानसभा सत्र स्थगित रहने के बाद CM नीतीश कुमार ने भी कोरोना को लेकर हाई लेवल मीटिंग रखी जिसमें अधिकारियों और मंत्रियों के साथ ना सिर्फ पूरे मामले पर समीक्षा की बल्कि कई निर्देश भी दिए है. सीएम के साथ बैठक में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी और दोनों विभाग के अपर मुख्य सचिव और प्रधान सचिव भी मौजूद रहे.

सीएम ने जहां टेस्टिंग क्षमता बढ़ाने का निर्देश दिया वहीं अस्पतालों में भी पूरी तरह तैयारी मुकम्मल रखने का आदेश दिया. सबसे ज्यादा मरीजों की संख्या पटना में बढ़ती जा रही है जहाँ 19 मार्च को नए कोरोना संक्रमितों की संख्या 25 थी लेकिन 20 मार्च को सीधे दोगुने बढ़ गई. पटना की सिविल सर्जन डॉ विभा कुमारी सिंह की मानें तो लगभग 15 से ज्यादा माइक्रो कंटेन्मेंट जोन बनाये गए हैं और जैसे-जैसे संक्रमितों की संख्या बढ़ेगी तो कंटेन्मेंट जोन की संख्या और बढ़ाई जाएगी.
बिहार में 24 घंटे में कोरोना जांच की बात करें तो  55,376 सैम्पल की जांच हुई है जिसमें पटना में कुल 3585 सैंपल की जांच हुई है. इसमें एंटीजन टेस्ट 1361 और आरटी-पीसीआर 2217 हैं. स्वास्थ्य विभाग की माने तो बिहार में अब तक 2,63,443 लोग संक्रमित हुए हैं जिसमें 2,61,413 लाेग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. बिहार में अब एक्टिव मामलों की संख्या 472 है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज