किर्गिस्तान में फंसे हैं बिहार के 1000 से अधिक छात्र, PMO से भी लगा चुके गुहार पर खत्म नहीं हो रहा वतन वापसी का इंतजार
Patna News in Hindi

किर्गिस्तान में फंसे हैं बिहार के 1000 से अधिक छात्र, PMO से भी लगा चुके गुहार पर खत्म नहीं हो रहा वतन वापसी का इंतजार
किर्गिस्तान में फंसे बिहार के 1000 मेडिकल छात्र कर रहे घर लौटने का इंतजार

VIDEO: करीब चार हजार किलोमीटर दूर किर्गिस्तान (kyrgyzstan) में 1000 से अधिक स्टूडेंट्स वतन वापसी की राह देख रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 10, 2020, 12:46 PM IST
  • Share this:
पटना. कोरोना संकट की वजह से बिहार के 1,000 से अधिक छात्र किर्गिस्तान (kyrgyzstan) में फंसे हैं. बिहार के विभिन्न जिलों के ये छात्र किर्गिस्तान में एमबीबीएस (MBBS) की पढ़ाई कर रहे हैं. छात्रों के अनुसार वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के तहत किर्गिस्तान से अलग अलग सूबों की उड़ान है, लेकिन बिहार (Bihar) के लिए कोई फ्लाइट नहीं है.  एमबीबीएस के छात्र राज्य और केंद्र सरकार से मदद की अपील कर रहे हैं.  उनके अनुसार, कॉलेज एक महीने से बंद है. छात्रावास की स्थिति भी बेहद खराब हो गई है और लगातार उनकी मुश्किल बढ़ रही है.

वतन वापसी के इंतजार में छात्र
मिली जानकारी के अनुसार करीब चार हजार किलोमीटर दूर किर्गिस्तान में 1000 से अधिक स्टूडेंट्स वतन वापसी की राह देख रहे हैं. ये विद्यार्थी बिहार से लेकर केंद्र सरकार और बालीवुड अभिनेताओं तक मदद की गुहार लगाकर थक चुके हैं।. बताया जा रहा है कि किर्गिस्तान में परीक्षा खत्म हुए दो माह बीत चुके हैं. घर वापसी के लिए बिचौलियों से सम्पर्क किया, लेकिन दूसरे राज्यों के बच्चे जहां 20 हजार रुपये में टिकट खरीद रहे थे वहीं हमसे टिकट के लिए 42 हजार रुपये मांगा गया.

बिहार सरकार पर लगा रहे ये आरोप
छात्रों ने बताया कि वंदे भारत मिशन में बिहार के लिए एक भी फ्लाइट नहीं है क्योंकि बिहार सरकार क्लीयरेंस नहीं दे रही है. छात्रों का कहना है कि अन्य राज्यों के बच्चे अपने घर लौट चुके हैं इस वजह से हमलोग डिप्रेशन के शिकार होते जा रहे हैं. इस बीच किर्गिस्तान में फंसे छात्र छात्राओं ने वतन वापसी के लिए ट्वीट कर पीएम मोदी से गुहार लगाई है. छात्रों ने बताया कि दूतावास को ट्वीट किया है. पीएमओ को ट्वीट किया है. बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, विदेश मंत्री  जयशंकर को भी ट्वीट कर वतन वापसी कराने की गुहार लगाई है. बिहार के राज्यपाल को मेल किया है.





हर किसी से लगाई गुहार, पर नहीं हुई सुनवाई
छात्रों ने बताया कि उनलोगों ने पूर्व सासंद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को भी मेल किया है. इसके अलावा बालीवुड अभिनेताओं के माध्यम से भी मदद मांगी, लेकिन अभी तक समस्या का समाधान नहीं हुआ.  बता दें कि किर्गिस्तान के जलालाबाद स्टेट यूनिवर्सिटी, एशियन मेडिकल इंस्टीट्यूट, ओएसएच मेडिकल यूनिवर्सिटी सहित अन्य कालेजों में बिहार के 1000 से अधिक छात्र पढ़ाई करते हैं. लाकडाउन से पूर्व परीक्षा के कारण वे वापस नहीं आ सके थे. जब परीक्षाएं खत्म हुई उसके बाद वतन लौटना मुश्किल हो गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading