लाइव टीवी

1977 के बाद ये पहला होगा लोकसभा चुनाव, जब नहीं दिखेगा लालू का ठेठ अंदाज

News18 Bihar
Updated: April 10, 2019, 1:46 PM IST
1977 के बाद ये पहला होगा लोकसभा चुनाव, जब नहीं दिखेगा लालू का ठेठ अंदाज
file photo

चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है.

  • Share this:
चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता लालू प्रसाद यादव की जमानत याचिका सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दी है. इस फैसले के बाद अब लालू यादव चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे. 1977 के चुनावों के बाद पहली बार ऐसा होगा जब बिहार में चुनाव तो होंगे लेकिन लालू प्रसाद यादव नहीं दिखाई देंगे. 2014 के लोकसभा और 2015 के विधानसभा चुनावों के दौरान भी लालू सजायाफ्ता थे लेकिन उन्हें कोर्ट से जमानत मिल गई थी.




दरअसल लालू के लिए इस बार उनकी राह कठिन कर दी सीबीआई के जवाब ने. सीबीआई ने कोर्ट मे लालू यादव लोकसभा चुनाव के लिए जमानत मांग रहे हैं और चुनाव को प्रभावित कर सकते हैं. CJI ने कहा कि आप कई मामलों में दोषी हैं. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि सभी केसों में सजा एक साथ चलेगी या नहीं ये मामला हाईकोर्ट देखेगा. इसमें हम दखल नहीं देंगे.

इमरजेंसी के बाद जब आम चुनाव हुए तो लालू यादव पहली बार चुनावी मैदान में थे और वो सारण के सांसद चुने गए थे. उसके बाद राज्य की राजनीति में लगातार अपनी उपस्थिति दर्ज कराते रहे हैं.यह भी पढ़ें: लालू यादव को बड़ा झटका, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका

यह भी पढ़ें: बीजेपी सांसद बोले- जातिवाद का ढोंग रचकर बिहार के लोगों को बेवकूफ बनाते रहे हैं लालू

यह भी पढ़ें: औरंगाबाद, नवादा, गया, जमुई में 11 अप्रैल को वोटिंग, राहुल बोले- बिहार में ही देंगे नौकरी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 10, 2019, 1:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर