Home /News /bihar /

after pashuparas allegations chirag paswan wrote a letter to cm nitish kumar to take action against culprits after investigation nodaa

चाचा के आरोपों पर भतीजे ने लिखा सीएम को पत्र, कहा- जांच से दूध का दूध-पानी का पानी करवा दें

पशुपति पारस ने खुद पर हुए हमले के लिए चिराग पर लगाया है आरोप.

पशुपति पारस ने खुद पर हुए हमले के लिए चिराग पर लगाया है आरोप.

Bihar Politics: चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर चाचा पशुपति पारस पर हुए हमले पर जांच की मांग की. तेजस्वी के इफ्तार में नीतीश सहित कई नेताओं को बुलाए जाने पर कहा कि इफ्तार के राजनीतिक मायने न निकाले जाएं. जहांगीरपुर मामले पर कहा कि सभी चीजों को धर्म की नजर से नहीं देखा जाना चाहिए, गलत गलत ही होता है.

अधिक पढ़ें ...

पटना. चिराग पासवान ने चाचा पशुपति पारस पर मोकामा में हुए हमले की जांच कराने को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा है. चिराग पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मांग की है कि चाचा भतीजे के मामले में जांच कराकर दूध का दूध पानी का पानी करवा दें. उन्होंने लिखा है कि अगर चिराग दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें सजा मिलनी चाहिए. बता दें कि पशुपति पारस ने अपने ऊपर हुए हमले को लेकर चिराग पासवान पर आरोप लगाया है.

चिराग पासवान ने तेजस्वी यादव के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दावते इफ्तार देने पर इसे सियासत से न जोड़ने की गुजारिश की. उन्होंने कहा कि उनके पिता रामविलास भी लालू प्रसाद की इफ्तार पार्टी में शरीक होते थे, ऐसे में तेजस्वी की इफ्तार पार्टी में शामिल होने का कहीं से कोई राजनीतिक मायने न निकाला जाए.

इसके साथ ही चिराग पासवान ने एक बार फिर नीतीश कुमार पर निशाना साधा है और उनपर सहूलियत की राजनीति करने का आरोप लगाया. चिराग ने कहा कि यूपी चुनाव के समय विशेष राज्य के दर्जे और जातीय जनगणना कि मांग उठी थी, ये मुद्दे चुनाव के बाद गायब हो गए हैं. इसके साथ ही चिराग पासवान ने दिल्ली के जहांगीरपुर इलाके में चल रहे बुलडोजर पर कहा कि धर्म के चश्मे से चीजें नहीं देखी जातीं और जिसने गलत किया है, वह किसी भी धर्म का अनुयाई नहीं हो सकता. गलत गलत होता है और सही सही होता है.

Tags: Chirag Paswan, CM Nitish Kumar, Pashupati Paras

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर