Bihar: पंचायत भवन में ही बनेंगे प्रमाण-पत्र, खुलेंगे RTPS सेंटर, जानिए कब से मिलेंगी ये सुविधा

बिहार: नहीं बन रहे थे पंचायतों में प्रमाण पत्र, BJP MLA की शिकायत पर हुआ एक्शन

Bihar News: अधिकारियों की लापरवाही के कारण पंचायतों में प्रमाण पत्र बनाने का काम शुरू नहीं किया गया. BJP विधायक नारायण प्रसाद ने मुख्यमंत्री से इसकी शिकायत की थी. जिसके बाद अब पंचायती राज विभाग ने सभी DM को पत्र लिखा है. साथ ही लापरवाह पदाधिकारियों पर कार्रवाई की तैयारी में है.

  • Share this:
पटना. बिहार (Bihar) के लगभग 5 हज़ार पंचायतों में बने आरटीपीएस काउंटर (RTPS Counter) से पिछले 3 वर्षों में एक भी प्रमाण पत्र नहीं बना. सरकार ने तीन साल पहले ही इस योजना की शुरुआत की थी. जिसके तहत लोगों को जाति प्रमाण पत्र, आवासीय सहित अन्य प्रमाण पत्र बनाने के लिए कहीं और जाने की जरूरत होगी, लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के कारण इस योजना की शुरुआत अभी तक नहीं हो सकी है. BJP विधायक नारायण प्रसाद (Narayan Prasad) ने इस संबंध में मुख्यमंत्री से शिकायत की थी. जिसके बाद अब पंचायती राज विभाग ने सभी DM को पत्र लिखा है. साथ ही लापरवाह पदाधिकारियों पर कार्रवाई की तैयारी में है. 15 अगस्त 2021 तक सभी बने हुए पंचायत भवन में आरटीपीएस काउंटर खोलने की तैयारी की जा रही है.

विभाग के मंत्री सम्राट चौधरी का कहना है कि किसी भी कीमत पर 15 अगस्त से यह सुविधा शुरू हो जाएगी. यदि RTPS काउंटर नहीं खुलता है और कुछ गड़बड़ी होती है तो वैसे अधिकारियों पर कार्रवाई करने के लिए सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखा गया है. आरटीपीएस काउंटर खोलने के लिए सभी पंचायतों में कर्मचारियों की नियुक्ति भी कर दी गई है.

नाराज पंचायती राज विभाग ने लिखा अधिकारियों को पत्र

सभी पंचायतों में आरटीपीएस काउंटर खोलने के लिए कर्मचारियों की नियुक्ति के बाद भी काम शुरू नहीं होने पर पंचायती राज विभाग ने नाराजगी जाहिर की. बिहार के सभी जिलाधिकारियों को पत्र लिखा गया है. पंचायती राज विभाग द्वारा लिखे गए पत्र में कहा गया है कि इस संबंध में विधायक नारायण प्रसाद द्वारा मुख्यमंत्री को पत्र लिखा गया था, जिसमे कहा गया कि आज तक एक भी पंचायत भवन से लोगों को यह सुविधा नहीं मिल रही. जबकि वहां कार्यपालक सहायकों की तैनाती भी हो चुकी है. इतना समय बीत जाने के बाद भी पूरे बिहार में एक भी प्रमाण-पत्र निर्गत क्यों नहीं किया गया. जबकि आरटीपीएस केंद्र के संचालन में लाखों रुपए हर महीने खर्च किए जा रहे हैं. पूरे मामले में DM से कहा गया है कि जल्द इस व्यवस्था को शुरू की जाए.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.