बिहार: मेवालाल के इस्तीफे के बाद नए शिक्षा मंत्री पर भी विवाद, तेजस्वी ने उठाया अब यह मामला

अशोक चौधरी नीतीश सरकार में शिक्षा मंत्री के पद पर हैं. (फाइल फोटो)
अशोक चौधरी नीतीश सरकार में शिक्षा मंत्री के पद पर हैं. (फाइल फोटो)

भ्रष्टाचार के एक मामले में कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी (Ashok Chaudhary) की पत्नी पर बैंक से धोखाधड़ी का एक मामला चल रहा है, जिसकी जांच सीबीआई (CBI) कर रही है और मामला सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) में है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2020, 11:40 AM IST
  • Share this:
पटना. भ्रष्टाचार के आरोपों में घिरे डॉ मेवालाल चौधरी (Dr. Mevalal Chaudhary) को शिक्षा मंत्री के पद से त्यागपत्र देना पड़ा. इसके बाद प्रदेश में जेडीयू के कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी (Ashok Chaudhary) को शिक्षा मंत्री का प्रभार दे दिया गया. लेकिन, अब वह भी विवादों में घिरते नजर आ रहे हैं. दरअसल इस बार आरोप सीधे उनपर नहीं, लेकिन उनकी पत्नी के भ्रष्टाचार के आरोपों से जुड़े मामले को लेकर है. विरोधी दल के नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने सोशल मीडिया का सहारा लेकर अशोक चौधरी को निशाना बनाया है और उनकी राजनीतिक शुचिता के दावे पर सवाल उठाया है.

तेजस्वी यादव ने अपने ट्वीटर अकांउट पर अशोक चौधरी की पत्नी पर लगे भ्रष्टाचार को लेकर निशाना साधा और लिखा, साहित्यिक चोरी के दोषी मुख्यमंत्री नीतीश जी के मुकुटमणि, JDU के कार्यकारी अध्यक्ष और मंत्री श्री अशोक चौधरी की पत्नी पर बैंक से करोड़ों की धोखाधड़ी और जालसाजी का आरोप है, CBI जांच कर रही है, कोर्ट में केस है. इनकी निष्कपटता देखिए, कहते हैं बीवी का भ्रष्टाचार Not a big deal.

तेजस्वी का ट्वीट




बता दें कि भ्रष्टाचार के एक मामले में कार्यकारी अध्यक्ष अशोक चौधरी की पत्नी पर बैंक से धोखाधड़ी का एक मामला चल रहा है, जिसकी जांच सीबीआई कर रही है. इस मामले में सीबीआई ने उन्हें चार्जशीटेड किया था. इसके बाद अशोक चौधरी की पत्नी हाईकोर्ट गई, जहां से वह बरी हो गईं.  लेकिन, सीबीआई इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट चली गई जहां हाईकोर्ट के फैसले को सस्पेंड कर दिया गया है. हालांकि मामला अभी अंडर  ट्रायल है.
गौरतलब है कि जेडीयू प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष ने एक निजी चैनल से बातचीत में  इस पर अपना पक्ष रखते हुए कहा है कि ये मामला अभी कोर्ट में है और अभी हमारे पक्ष को सुना नहीं गया है. जब भी तारीख आएगी हम कोर्ट में अपना पक्ष रखेंगे.  सुप्रीम कोर्ट में अपनी बात रखेंगे और वहां लड़ेंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज