बिहार: किचकिच के बीच अजीत शर्मा चुने गए कांग्रेस विधायक दल के नेता, दो विधायक रहे नदारद

 कांग्रेस विधायक दल के नेता बने अजित शर्मा
कांग्रेस विधायक दल के नेता बने अजित शर्मा

प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा (Madan Mohan Jha) की अध्यक्षता में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में 17 विधायक शामिल हुए, अररिया से निर्वाचत आबिदुर्रहमान और मनिहारी से निर्वाचित मनोहर प्रसाद शामिल नहीं हुए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 14, 2020, 8:55 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव परिणाम (Bihar Assembly Election Results) के बाद भागलपुर से कांग्रेस विधायक अजित शर्मा को पार्टी ने विधायक दल का नेता और आफाक आलम को उपनेता चुन लिया है. शुक्रवार को पार्टी मुख्यालय सदाकत आश्रम में हुई बैठक में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel) ने उनके नाम की घोषणा की. इसके अलावा राजेश कुमार राम को मुख्य सचेतक बनाया गया जबकि छत्रपति यादव और प्रतिमा कुमारी दास को उप सचेतक की जिम्मेदारी दी गई.   विधायक आनंद शंकर विधायक दल के कोषाध्यक्ष बनाए गए.

बता दें कि प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा की अध्यक्षता में कांग्रेस विधायक दल की बैठक में 17 विधायक शामिल हुए, अररिया से निर्वाचत आबिदुर्रहमान और मनिहारी से निर्वाचित मनोहर प्रसाद शामिल नहीं हुए. उनसे फोन पर बात हुई. प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने बताया कि दोनों विधायक एक दिन पूर्व ही पटना आए थे और अपने क्षेत्र में लौट गए थे.

विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद अजीत शर्मा ने कहा कि कांग्रेस सदन में जनता की आवाज बनेगी। औरविपक्ष की भूमिका पूरी तरह से निभाएगी. जनहित से जुड़े मुद्  उनकी प्राथमिकता में शामिल रहेंगे. इसमें प्रमुख रूप से शिक्षा, नौकरी व अन्य मुद्दे होंगे जिनसे आमजन का सीधा सरोकार होगा.



कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता बनने को लेकर पार्टी के दो नवनिर्वाचित विधायकों विजय शंकर दूबे और सिद्वार्थ कुमार के समर्थकों के बीच पार्टी मुख्यालय में बैठक के दौरान जमकर मारपीट और हाथापाई हुई. दोनों विधायकों के समर्थक अपने-अपने नेता को कांग्रेस विधानमंडल का नेता बनाने की मांग कर रहे थे.
विधायक दल की बैठक शुरू होने के साथ ही समर्थक एक-दूसरे के खिलाफ जिंदाबाद व मुर्दाबाद के नारे लगाने लगे और आपस में भिड़ गए. हालांकि बाद में बीच-बचाव के बाद मामले को शांत किया गया. बाद में बैठक में सभी नेताओं ने सर्वसम्मति से कांग्रेस विधायक दल के नेता के चयन को लेकर केंद्रीय नेतृत्व को अधिकृत किया.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, कांग्रेस स्क्रीनिंग कमेटी के चेयरमैन अविनाश पांडेय, कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सह प्रभारी वीरेंद्र राठौर एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. मदन मोहन झा की उपस्थिति में पार्टी के विधायक दल की बैठक हुई। इसकी अध्यक्षता डॉ. मदन मोहन झा ने की.

इस बैठक में AICC सचिव प्रभारी श्री वीरेंद्र सिंह राठौर, अभियान समिति के चेयरमैन डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह, कार्यकारी अध्यक्ष श्री कौकब कादरी भी मौजूद थे. बैठक में पार्टी की प्रचार समिति के चेयरमैन अखिलेश प्रसाद सिंह, विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्र व  प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष कौकब कादरी व समीर कुमार सिंह भी शामिल हुए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज