पटना में कोरोना का कहर- AIIMS के 150 बेड समेत ICU फुल फिर भी इलाज के लिए पहुंच रहे मरीज

बिहार में कोरोना से बुरे हालात हैंं..पटना एम्स के सभी बेड और आईसीयू फुल हैं

बिहार में कोरोना से बुरे हालात हैंं..पटना एम्स के सभी बेड और आईसीयू फुल हैं

Bihar Corona Update: बिहार में कोरोना के मरीजों की संख्या 17 हजार के पार चली गई है. मंगलवार को बिहार में कोरोना के 4 हजार से भी अधिक नए केस सामने आए.

  • Share this:
पटना. बिहार में कोरोना वायरस (Coronavirus) से फैले संक्रमण ने सरकार की परेशानी बढ़ा दी है. हालात ऐसे बन रहे हैं कि अस्पतालों में बेड तक खाली नहीं हैं. पटना में फुलवारीशरीफ स्थित एम्स (Patna AIIMS) के 150 बेड कोरोना संक्रमण के मरीजों से भर गए हैं. 40 आईसीयू (ICU) के बेड भी भर चुके हैं. अब अस्पताल में जगह नहीं है, लेकिन मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है. पटना एम्‍स में 30 बेड बढ़ाए गए थे जो बढ़ने के साथ ही भर गए हैं.

पटना एम्स के निदेशक पीके सिंह ने बताया कि पटना एम्स के सारे बेड फुल हो चुके हैं और मरीजों की संख्या बढ़ गई है. यह बताना मुश्किल है कि कोरोना के मरीजों की संख्या कब तक बढ़ती रहेगी, इसलिए लोगों से आग्रह है कि जितना हो सके मास्क लागाकर रहें और अपने आप को बचाकर रखें. पटना एम्स में आने वाले मरीजों को हिदायत होगी कि वो आईजीएमएस और पीएमसीएच जा कर एडमिट हो सकतें है.

Youtube Video


पीके सिंह ने बताया कि पीएमसीएच और आईजीएमएस में अभी बेड खाली हैं और वहां भी एम्स जैसा ही इलाज मिलेगा. लोग एम्स में आना चाहतें है और यहां बेड फुल है. पटना एम्स में पहुंचने वाले कोविड मरीजों का हाल बेहाल है, क्‍योंकि यहां बेड ही उपलब्‍ध नहीं हैं. एम्स के अंदर जिस तरह से मरीज पहुंच रहे हैं, उससे यही लग रहा है कि ओपीडी में भी जाना खतरनाक हो गया है. लोग मरीज को लेकर ओपीडी में पहुंच रहे हैं और गार्ड उन्हें रोक नहीं पा रहे हैं, इसकी वजह से साधारण मरीज को भी संक्रमण फैलने का खतरा होने लगा है. बहरहाल एम्स प्रसाशन ने हाथ खड़े कर दिए है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज