लाइव टीवी

लालू ने CM नीतीश के जल, जीवन, हरियाली यात्रा को बताया 'नौटंकी'

News18Hindi
Updated: January 16, 2020, 1:39 PM IST
लालू ने CM नीतीश के जल, जीवन, हरियाली यात्रा को बताया 'नौटंकी'
बूिहार के पूर्व सीएम लालू यादव. (फाइल फोटो- एएनआई)

आरजेडी नेता लालू यादव (Lalu Yadav) चारा घोटाले के मामले में भले ही रांची जेल (Ranchi Jail) में बंद हो. लेकिन वे अपने ट्वीटर अकाउंट से बिहार के सीएम नीतीश कुमार, बीजेपी और संघ पर तंज कसते रहते हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 16, 2020, 1:39 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. आरजेडी नेता लालू यादव (Lalu Yadav) चारा घोटाले के मामले में भले ही रांची जेल (Ranchi Jail) में बंद हो. लेकिन आये दिन उनके ट्वीटर अकाउंट से बिहार के सीएम नीतीश कुमार, बीजेपी और संघ पर तंज सका जाता है. इस बार लालू ने ट्वीट कर सीएम नीतीश कुमार के जल, जीवन और हरियाली योजना पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा है कि ''छल, छीजन और घड़ियालीपन'' यात्रा वाले महानुभाव ने गरीब राज्य के नौजवानों, किसानों और कर्मचारियों का 24,500 करोड़ लूट लिया. उन्होंने यह भी कहा कि ऊपर से सरकारी संसाधनों की बर्बादी एवं करोड़ों रुपए मानव शृंखला की नौटंकी पर खर्च कर सुशासनी भ्रष्टाचार को वैध बनाने व जनता को दिग्भ्रमित करने की कोशिश है.

 

सीएए के सवाल पर भी मांगा था जवाब

इससे पहले भी लालू ने अपनी एक अन्य ट्वीट में सीएए पर नीतीश कुमार के CAA पर स्टैंड पर अपनी प्रतिक्रिया दी थी. लालू ने भोजपुरी में की एक ट्वीट में कहा था कि मुंह में राम बगल में छुरी, मौका पा कर गरीब का सिर काट रहे हैं.

 



तेजस्वी भी हैं लगातार हमलावर

वहीं सीएम नीतीश कुमार पर लालू के बेटे तेजस्वी भी लगातार हमलावर हैं. तेजस्वी ने भी गुरुवार को अपने कई ट्वीट में इस तरह के सवाल पूछे हैं. तेजस्वी ने एक ट्वीट में कहा है, ''क्या नीतीश कुमार नहीं जानते कि इस बार NPR ही NRC की पहली सीढ़ी बनकर आया है जिसकी बिहार में अधिसूचना वह ख़ुद जारी कर चुके है? क्या नीतीश जी यह भी नहीं जानते कि अमित शाह जी ने बार-बार कहा है कि NPR ही NRC का प्रथम चरण है और इससे उपलब्ध आंकड़ों के आधार पर ही NRC होगा?''



नीतीश से पूछा ये सवाल

तेजस्वी ने अपनी एक अन्य ट्वीट में कहा, ''नीतीश जी अपने गिरगिटी अंदाज़ से कब हटने वाले है? दोहरे चरित्र के धनी अब कहने लगे है कि NRC को बिहार में लागू नहीं करेंगे. क्या नीतीश जी नहीं जानते कि जो उनके हाथ में था वहां तो उन्होंने CAA का खुले हाथों से समर्थन करके अपना असली संविधान विरोधी साम्प्रदायिक रंग दिखा ही दिया है. इसके अलावा बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम तेजस्वी ने अपने एक अन्य ट्वीट में सीएम नीतीश कुमार को पल्टासन योग का खोजकर्ता भी कह डाला.

ये भी पढ़ें: 

बेगूसराय: प्रेम विवाह करना पड़ा महंगा, लड़के के चाचा को गंवानी पड़ी जान

बिहार पुलिस की 20 जनवरी को होने वाली सिपाही परीक्षा स्थगित, ये है वजह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 16, 2020, 1:39 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर