होम /न्यूज /बिहार /अमित लोढ़ा और आदित्य कुमार के बीच रही है पुरानी लड़ाई! जानें फरार अधिकारी के कारण कैसे फंस गए खाकी के 'हीरो'

अमित लोढ़ा और आदित्य कुमार के बीच रही है पुरानी लड़ाई! जानें फरार अधिकारी के कारण कैसे फंस गए खाकी के 'हीरो'

गया के तत्कालीन एसएसपी और फरार चल रहे आईपीएस अधिकारी आदित्य कुमार और मगध रेंज के तत्कालीन आईजी अमित लोढ़ा के बीच विवाद जगजाहिर है.

गया के तत्कालीन एसएसपी और फरार चल रहे आईपीएस अधिकारी आदित्य कुमार और मगध रेंज के तत्कालीन आईजी अमित लोढ़ा के बीच विवाद जगजाहिर है.

Khaki The Bihar Chapter: अमित लोढ़ा नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज 'खाकी द बिहार चैप्टर' के कारण सुर्खियों में बने हैं. इसी बीच ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

आईपीएस अफसर अमित लोढ़ा और आदित्य कुमार की इन दिनों खूब चर्चा हो रही है.
अमित लोढ़ा नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज 'खाकी द बिहार चैप्टर' के कारण सुर्खियों में बने हैं.

पटना. बिहार के 2 आईपीएस अफसरों अमित लोढ़ा और आदित्य कुमार की इन दिनों खूब चर्चा हो रही है. दरअसल एसवीयू ने गया के तत्कालीन एसएसपी आदित्य कुमार के खिलाफ डीए केस दर्ज करते हुए हाल ही में उनके तीन ठिकानों पर छापे मारे थे. आईपीएस आदित्य कुमार फिलहाल फरार चल रहे हैं. वहीं अमित लोढ़ा नेटफ्लिक्स की वेब सीरीज ‘खाकी द बिहार चैप्टर’ के कारण सुर्खियों में बने हैं. इसी बीच बिहार में विशेष निगरानी इकाई (Special Vigilance Unit) ने भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और मगध रेंज के पूर्व आईजी अमित लोढ़ा के खिलाफ भ्रष्टाचार और वित्तीय गड़बड़ी के मामले में केस दर्ज किया है.

इस पूरे मामले में बड़ी बात यह है कि अमित लोढ़ा के खिलाफ शिकायत करने वाले कोई और नहीं बल्कि आदित्य कुमार हैं. दरअसल अमित लोढ़ा ने ‘बिहार डायरी’ वर्ष 2017 में लिखी थी. इसी किताब पर आधारित वेब सीरीज ‘खाकी द बिहार चैप्टर’ इन दिनों नेटफ्लिक्स पर प्रदर्शित हो रही है. पहले तो इसे लेकर अमित लोढ़ा की तारीफ होती रही. लेकिन, इसी बीच आईपीएस आदित्य कुमार ने उनके खिलाफ शिकायत कर दी. अब अमित लोढ़ा के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है.

आदित्य कुमार और अमित लोढ़ा के बीच विवाद पुराना 

बता दें, गया के तत्कालीन एसएसपी और फरार चल रहे आईपीएस अधिकारी आदित्य कुमार और मगध रेंज के तत्कालीन आईजी अमित लोढ़ा के बीच विवाद जगजाहिर है. जमीन विवाद और शराब मामले के कारण इनकी आपसे खींचातान और विवाद की वजह से ही सरकार ने दोनों अधिकारियों को गया से हटा दिया था और हटाकर मुख्यालय में प्रतिनियुक्त कर दिया था. इसके बाद दोनों अधिकारियों के खिलाफ जांच हुई. जांच में शराब केस में आदित्य कुमार पर केस दर्ज किया गया. आदित्य पर डीजीपी को फर्जी कॉल कराने के भी आरोप हैं. अब अमित लोढ़ा पर वित्तीय अनियमितता और भ्रष्टाचार में मामला दर्ज कर जांच शुरू की जा रही है. आईपीएस अधिकारी अमित लोढ़ा के खिलाफ एसयूवी में केस दर्ज होने के बाद उनकी मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं.

समझें कैसे फंस गए आईपीएस अमित लोढ़ा 

बता दें, बिहार में विशेष निगरानी इकाई (Special Vigilance Unit) ने भारतीय पुलिस सेवा के अधिकारी और मगध रेंज के पूर्व आईजी अमित लोढ़ा के खिलाफ भ्रष्टाचार और वित्तीय गड़बड़ी के मामले में केस दर्ज किया है. इससे पहले एसवीयू ने गया के तत्कालीन एसएसपी आदित्य कुमार के खिलाफ डीए केस दर्ज करते हुए बुधवार को उनके तीन ठिकानों पर छापे मारे थे. विशेष निगरानी इकाई के अनुसार, अमित लोढ़ा पर आरोप है कि उन्होंने सरकारी सेवक के पद पर रहते हुए भ्रष्टाचार और व्यक्तिगत लाभ में वित्तीय अनियमितताएं कीं. एसयूवी के आरोप के अनुसार, नेटफिलिक्स तथा फ्राइडे स्टोरी टेलर के साथ सरकारी सेवक होते हुए भी व्यावसायिक कार्य किए. इन दिनों नेटफ्लिक्स पर वेब सीरीज खाकी देखी जा रही है. इसमें अमित लोढ़ा एसपी के रूप में नजर आ रहे हैं.

IPC की विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज 

एसयीयू ने बताया कि अमित लोढ़ा के भ्रष्टाचार और वित्तीय अनियमितता की जांच एजेंसियों द्वारा की गई. जांच रिपोर्ट की समीक्षा पुलिस मुख्यालय एवं वरीय प्राधिकार द्वारा विधिवत की गई. इसके बाद निगरानी विभाग के दिशा-निर्देश के आलोक में अमित लोढ़ा के खिलाफ पीसी एक्ट और आईपीसी की विभिन्न धाराओं में प्राथमिकी दर्ज की गई है. विशेष निगरानी इकाई के एडीजी नैयर हसनैन खान ने इस बात की जानकारी दी है कि इस मामले की जांच की जिम्मेदारी पुलिस उपाधीक्षक स्तर के अधिकारी को सौंपी गई है.

Tags: Bihar News, Bihar police, Netflix

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें