होम /न्यूज /बिहार /

बिहार BJP कोर कमेटी मीटिंग में बनी रणनीति, अकेले दम पर लोकसभा की 35 सीटें जीतने का रखा लक्ष्य

बिहार BJP कोर कमेटी मीटिंग में बनी रणनीति, अकेले दम पर लोकसभा की 35 सीटें जीतने का रखा लक्ष्य

कोर कमेटी की बैठक के बाद बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बताया कि सभी मुद्दों पर गहन चर्चा हुई. यह जनता को धोखा देने वाला महागठबंधन है (फोटो: ANI)

कोर कमेटी की बैठक के बाद बिहार बीजेपी के अध्यक्ष संजय जायसवाल ने बताया कि सभी मुद्दों पर गहन चर्चा हुई. यह जनता को धोखा देने वाला महागठबंधन है (फोटो: ANI)

Bihar BJP Core Committee Meeting: मंगलवार को बीजेपी मुख्यालय में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी नड्डा की अध्यक्षता में बिहार बीजेपी की कोर कमेटी की हुई बैठक में नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के एनडीए गठबंधन से अलग होकर आरजेडी के साथ मिलकर महागठबंधन की सरकार बनाने के बाद अपनी भावी रणनीति को लेकर चर्चा की गई. यह बैठक लगभग तीन घंटे तक चली

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली/पटना. बिहार की बदली हुई राजनीति के बीच मंगलवार को दिल्ली में बिहार बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक (Bihar BJP Core Committee Meeting) हुई. बीजेपी मुख्यालय में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी नड्डा की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की पार्टी जनता दल युनाइटेड (जेडीयू) के एनडीए गठबंधन से अलग होकर राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के साथ मिलकर महागठबंधन की सरकार बनाने के बाद अपनी भावी रणनीति को लेकर चर्चा की गई.

बैठक में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे, गिरिराज सिंह और नित्यानंद राय मौजूद थे. साथ ही बीजेपी के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद, सुशील मोदी, नंदकिशोर यादव, बिहार के सह प्रभारी हरीश द्विवेदी भी उपस्थित थे. इनके अलावा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल, पूर्व उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद व रेणु देवी और पूर्व मंत्री शाहनवाज हुसैन ने भी बैठक में हिस्सा लिया.

लगभग तीन घंटे चली कोर कमेटी की बैठक के बाद संजय जायसवाल ने बताया कि सभी मुद्दों पर गहन चर्चा हुई. यह जनता को धोखा देने वाला महागठबंधन है. यह बिहार में पिछले दरवाजे से लालू राज की वापसी वाला गठबंधन है. हम सड़क से सदन तक संघर्ष करेंगे. हमलोग अगले लोकसभा चुनाव में 35 से ज़्यादा सीटें जीतेंगे.

वहीं, सूत्रों ने बताया कि बैठक में विपक्ष की भूमिका और उनके द्वारा उठाए जाने वाले मुद्दे, बिहार बीजेपी के नए अध्यक्ष का चयन, विधानसभा और विधान परिषद में नेता विपक्ष चुनने पर भी चर्चा की गई. साथ ही लोकसभा चुनाव 2024 के मद्देनजर बिहार में पार्टी की भावी रणनीति पर भी विचार-विमर्श हुआ.

बता दें कि यह बैठक ऐसे समय में हुआ जब बिहार में सत्ता परिवर्तन हुआ है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के द्वारा बीते नौ अगस्त को एनडीए से नाता तोड़ने के बाद बीजेपी की यह पहली बड़ी बैठक है, जिसमें पार्टी का शीर्ष नेतृत्व मौजूद रहा.

Tags: Bihar BJP, Bihar News in hindi, Bihar politics, CM Nitish Kumar

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर