आनंद कुमार ने ‘सुपर 30’ के निर्माताओं के सामने रखी थी ये शर्त, 13 बार बदलवाई कहानी

आनंद ने कहा, मैंने 13 स्टोरी को लेकर सुझाव दिया था. जिस पर अमल करते हुए स्क्रिप्ट को बदला गया, लेकिन इसके पीछे मेरा उद्देश्य पर्दे पर मेरी सच्ची कहानी को दिखाना था.

News18 Bihar
Updated: June 16, 2019, 8:37 PM IST
आनंद कुमार ने ‘सुपर 30’ के निर्माताओं के सामने रखी थी ये शर्त, 13 बार बदलवाई कहानी
‘सुपर 30’ का निर्देशन विकास बहल ने किया है और फिल्म में आनंद कुमार का किरदार ऋतिक रोशन ने निभाया है. (आनंद कुमार की File Photo )
News18 Bihar
Updated: June 16, 2019, 8:37 PM IST
कोचिंग संस्थान सुपर 30 (Super 30) के संस्थापक आनंद कुमार (Anand Kumar) के जीवन पर आधारित फिल्म ‘सुपर 30’ जुलाई में रिलीज होने जा रही है. इस मौके पर सुपर 30 के संस्थापक आनंद कुमार ने बताया कि उन्होंने ‘सुपर 30’ के निर्माताओं के सामने शर्त रखी थी कि अभिनेता और निर्देशक उनकी पसंद के होंगे. आनंद कुमार ने कहा कि पिछले नौ वर्षों से बहुत से बड़े अभिनेताओं और निर्देशकों ने उनके जीवन पर फिल्म बनाने के लिए उनसे संपर्क किया, लेकिन ‘सुपर 30’ के बनने तक कुछ भी उन्हें उत्साहित नहीं कर सका.

बता दें, ‘सुपर 30’ का निर्देशन विकास बहल ने किया है और फिल्म में आनंद कुमार का किरदार ऋतिक रोशन ने निभाया है. हाल ही में फिल्म का पहला ट्रेलर रिलीज किया गया, जिसकी आलोचना भी हुई.

ऋतिक फिल्म के साथ न्याय करेंगे
हालांकि, फिल्म जिस तरह से बनी है, उससे आनंद कुमार बहुत खुश हैं. आनंद कुमार ने कहा कि वह चाहते थे कि विकास बहल उनके जीवन की कहानी पर आधारित फिल्म का निर्देशन करें और उन्हें विश्वास था कि ऋतिक फिल्म के साथ न्याय करेंगे. उन्होंने कहा कि इन लोगों ने जो जुनून और उत्साह दिखाया, वह पहले किसी में नहीं दिखा था. मुझे उनका दृष्टिकोण पसंद आया, वे एक सच्ची कहानी बताना चाहते थे. उन्होंने मुझे रचनात्मक रूप से प्रक्रिया का हिस्सा बनने की स्वतंत्रता दी.

आनंद ने कहा, ‘मेरी कुछ शर्तें थीं कि एक बार जब मैं पटकथा पर हामी भर दूं तभी फिल्म बननी चाहिए और अभिनेता, निर्देशक और संगीत निर्देशक मेरी पसंद के होंगे.’


फिल्म की पटकथा को 13 बार बदलना पड़ा
‘सुपर 30’ के संस्थापक आनंद कुमार ने खुलासा किया कि उनकी वजह से फिल्म की पटकथा को 13 बार बदलना पड़ा. आनंद ने बताया कि मुझे एक बार फिल्म की स्क्रिप्ट पढ़ने को दी गई. जब मैंने उसे पढ़ा तो मुझे उसमें कुछ कमी दिखी. जिसके बाद मैंने कुछ सुझाव टीम को दिए. इसके बाद फिर ऐसा 13 बार हुआ. आखिर में 13 बार फिल्म की स्क्रिप्ट (पटकथा) बदलने के बाद स्टोरी फाइनल हुई.
आनंद ने कहा, मैंने 13 स्टोरी को लेकर सुझाव दिया था. जिस पर अमल करते हुए स्क्रिप्ट को बदला गया, लेकिन इसके पीछे मेरा उद्देश्य  पर्दे पर मेरी सच्ची कहानी को दिखाना था. फिल्म की टीम ने इसे अच्छी तरह से पूरा किया है. बता दें, फिल्म ‘सुपर 30’ 12 जुलाई को रिलीज होगी.

क्या है सुपर 30
'सुपर 30' एक कोचिंग संस्थान है. जो हर साल गरीब परिवारों के 30 प्रतिभावान बच्चों का चयन करता है और फिर उन्हें बिना शुल्क के आईआईटी की तैयारी करवाता है. आनंद कुमार की ये संस्था बच्चों की शिक्षा के साथ रहने और खाने का खर्च भी उठाती है. सुपर 30 की शुरुआत सन 2003 में हुई थी. 2003 में 30 बच्चों में से 18 बच्चों ने IIT की परीक्षा पास की थी. 2008 में पहली बार सभी 30 स्टूडेंट्स ने IIT की परीक्षा पास की. इस साल 18 बच्चों ने IIT JEE परीक्षा पास की है.

ये भी पढ़ें-

ऋतिक की Super 30 मुश्किल में घिरी, इस कारण रुक सकती है रिलीज

फडणवीस कैबिनेट में शामिल हुए पूर्व कांग्रेस नेता विखे पाटिल, ये 12 नेता बने मंत्री

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...