लाइव टीवी

बिहार में पोस्टरवार: लाल चश्मे में लालू, लिखा- ठग्स ऑफ बिहार, RJD ने दिया ये जवाब
Patna News in Hindi

News18 Bihar
Updated: February 12, 2020, 1:46 PM IST
बिहार में पोस्टरवार: लाल चश्मे में लालू, लिखा- ठग्स ऑफ बिहार, RJD ने दिया ये जवाब
आरजेडी और लालू यादव को टारगेट कर एक और पोस्टर जारी किया गया.

राजधानी पटना (Patna) के कई चौक-चौराहों पर लगाए गए पोस्टर बरबस ही लोगों का ध्यान खींच रहे हैं. इसमें लालू यादव (Lalu Yadav) को लाल रंग के चश्मे में बिल्कुल फिल्म के 'हीरो' वाले अंदाज में पेश किया गया है, लेकिन इसमें उनका किरदार विलेन का बताया गया है

  • Share this:

पटना. दिल्ली विधानसभा चुनाव (Delhi Assembly Election 2020) का परिणाम आने के बाद बिहार में सियासी सरगर्मी बढ़ने लगी है. एक दूसरे की विरोधी पार्टियां अब खुलकर मैदान में आती जा रही हैं. सियासी रार में सबसे दिलचस्प जेडीयू-आरजेडी (JDU-RJD) के बीच पोस्टरबाजी की लड़ाई हो गई है. बुधवार को पटना में दोनों पार्टियों द्वारा अपने-अपने पोस्टर लगाए. सत्ताधारी जेडीयू ने जहां पोस्टर में आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को 'ठग्स ऑफ बिहार' बताया तो आरजेडी ने इसके जवाब में कहा कि सरकार शिकारी है.


चौक-चौराहों पर लगाए गए पोस्टर
राजधानी पटना के कई चौक-चौराहों पर लगाए गए पोस्टर बरबस ही लोगों का ध्यान खींच रहे हैं. इसमें लालू यादव को लाल रंग के चश्मे में बिल्कुल फिल्मी 'हीरो' वाले अंदाज में पेश किया गया है, लेकिन इसमें उनका किरदार विलेन का बताया गया है. पोस्टर पर फिल्म का रील है और इसमें कई तस्वीरें हैं. इसके जरिए लालू-राबड़ी शासनकाल की कुछ तस्वीरों को दिखाया गया है.


'जरा याद करो वो कहानी पुरानी

इस पोस्टर में ये भी दिखाने की कोशिश की गई है कि लालू राज में अपराध चरम पर था और आरजेडी के कार्यकर्ता गुंडागर्दी करते थे. पोस्टर पर सबसे नीचे लिखा गया है 'जरा याद करो वो कहानी पुरानी.'  हालांकि ये पोस्टर किसने लगवाये हैं, इसका पता नहीं चल सका है क्योंकि पोस्टर पर किसी का नाम नहीं लिखा है.


टाइटल- 'ठग्स ऑफ बिहार'
हालांकि इस पोस्टर पर जेडीयू नेताओं का कहना है कि इसमें जिस भावना को दिखाने की कोशिश की गई है वो लालू यादव के शासनकाल का कड़वा सच है. 'ठग्स ऑफ हिंदुस्तान' पोस्टर में जो दिखाया गया है यह उस सिनेमा की ही तरह 1990 से 2005 तक जिस तरह की परेशानी बिहार की जनता ने झेला है, उसी का प्रकटीकरण है.पोस्टर पर ये बोली जेडीयू
जेडीयू के नेता और मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि पोस्टर लगाकर वो लोग काम करते हैं जो जनता में जा नहीं सकते हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 38 जिलों का दौरा किया, लोगों की समस्याओं को सुना, पोस्टरवार में हम लोगों को नहीं पड़ना है. उन्होंने कहा कि जेडीयू की तरफ से पोस्टर नहीं लगाया गया है.

आरजेडी ने दिया जवाब
हालांकि इसके जवाब में आरजेडी की ओर से भी पोस्टर जारी कर बिहार में बढ़ते अपराध को दिखाया गया है. पोस्टर पर लिखा है 'लहूलुहान हुआ बिहार, शिकारी है सरकार.' पोस्टर में बिहार के नक्शे पर एक दर्जन से अधिक तीर (जेडीयू का चुनाव चिह्न) को निशाने पर जाते हुए दिखाया गया है जिसमें भ्रष्टाचार, घोटाला, बेरोजगारी, अशिक्षा, जर्जर कानून व्यवस्था और ठप हुए विकास के मुद्दे भी बताए गए हैं.

आरजेडी ने भी जवाबी पोस्टर जारी किया

आरजेडी के नेता शिवचंद्र राम ने कहा कि लालू यादव को कहने से पहले नीतीश कुमार को अपना दामन झांकना चाहिए. बिहार का जो हाल बना रखा है, 15 साल से शासन कर रहे हैं और ठग लालू को कह रहे हैं, विकास नाम की कोई चीज नहीं है.


पिछले साल शुरू हुआ था पोस्टरवार
बता दें कि बिहार की इन दोनों ही सियासी पार्टियों के बीच पोस्टरवार सितंबर 2019 से शुरू हुआ था जो अनवरत जारी है. दोनों पार्टियों ने एक-दूसरे के खिलाफ अब तक 20 से अधिक पोस्टर लगाए हैं. इस क्रम में सबसे पहले दो सितंबर को पटना के चौक-चौराहों पर पोस्टर लगाए गए थे जिसमें लिखा था 'क्यूं करें विचार ठीके तो हैं नीतीश कुमार'. इसके जवाब में आरजेडी ने अपने पोस्टर पर लिखा था 'क्यों ना करें विचार बिहार जो है बीमार.'

ये भी पढ़ें- 


2020 के रण में आमने-सामने होंगे दो युवराज, कौन होगा पास-कौन होगा फेल?


दिल्ली चुनाव 2020: इन बिहारी नेताओं ने लहराया जीत का परचम, जानें इनके नाम

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 12, 2020, 12:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर