दूसरे चरण के चुनाव से पहले आयकर विभाग की 30 टीम ने कई शहरों में मारे छापे, करोड़ों की नकदी, ज्‍वेलरी और दस्तावेज बरामद

आयकर विभाग का पटना, हिलसा, भागलपुर, पूर्णिया, कटिहार और गया में छापा.
आयकर विभाग का पटना, हिलसा, भागलपुर, पूर्णिया, कटिहार और गया में छापा.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) की टीम ने पटना, गया, कटिहार और पूर्णिया समेत कई शहरों में कारोबारी और सरकारी काम लेने वाले ठेकेदारों के खिलाफ बड़ा सर्च आपरेशन चलाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 30, 2020, 7:05 AM IST
  • Share this:
पटना. इनकम टैक्स डिपार्टमेंट (Income Tax Department) बिहार में जारी विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के दौरान लगातार सर्च व सर्वे की कार्रवाई कर रहा है. इसी क्रम में आयकर विभाग की 30 टीमों ने गुप्त सूचना के आधार पर राज्य के विभिन्न शहरों में सर्च ऑपरेशन किया और करोड़ों की ज्वेलरी, नकदी और जमीन के दस्तावेज बरामद किया. पटना, हिलसा, भागलपुर, पूर्णिया, कटिहार और गया में एक साथ छापेमारी की गई. बता दें कि अलग-अलग स्रोतों से मिली जानकारी के आधार पर आयकर टीम हाल के दिनों में कई कार्रवाई कर चुकी है और दूसरे चरण के चुनाव से पहले यह अभियान आज यानी शुक्रवार को भी जारी रहेगा.

गुरुवार की देर शाम को इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की टीम ने कारोबारी और सरकारी काम लेने वाले ठेकेदारों के खिलाफ बड़ा सर्च आपरेशन चलाया. इस अभियान में करोड़ों की नकदी, गहने और संपत्ति जब्त की गई है. सरकारी काम करने वाले ठेकेदारों और स्टोन चिप्स कारोबारियों के यहां 4 सर्च और 8 सर्वे की कार्रवाई की गई है

आयकर विभाग की टीम ने पटना में गणाधिपति कंस्ट्रक्शन एजेंसी के मालिक जर्नादन प्रसाद के पांच ठिकानों पर छापा मारा गया. मिली जानकारी के अनुसार, फ्रेजर रोड, दीघा, कदमकुआं, हनुमान नगर स्थित कार्यालय, आवास और फैक्ट्री पर जांच-पड़ताल में आयकर टीम को काफी नकदी, करोड़ों के लेनदेन के साथ ही बैंकों के अलावा विभिन्न बचत योजनाओं में निवेश और करोड़ों की संपत्ति के कागजात मिले हैं.



आयकर विभाग की टीम ने नालंदा इंजीकॉन प्राईवेट लिमिटेड के पटना और हिलसा स्थित 9 ठिकानों पर भी तलाशी ली. बता दें कि ये दोनों एजेंसी राज्य सरकार के विभिन्न विभागों की कई योजनाओं का काम करती हैं, जिसमें नल-जल योजना भी शामिल है. विभाग के सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार कंपनी के मालिक विवेकानंद कुमार के घर व कार्यालय की तलाशी ली गई है. सर्च टीम को इनके यहां से भी नकदी, करोड़ों रुपए के लेनदेन के दस्तावेज मिले हैं. साथ ही ज्वेलरी व जमीन के दस्तावेज मिले हैं.
सर्च टीम ने भागलपुर, पूर्णिया और कटिहार में भी अलग-अलग स्थानों पर दो सरकारी ठेकेदारों के यहां भी कार्रवाई की. यहां से तलाशी के दौरान 50 लाख से अधिक की नकदी देर शाम तक मिल चुकी थी. टीम को इसके यहां से ज्वेलरी, जमीन और बचत योजनाओं में निवेश के दस्तावेज मिले हैं. उसके अलावा गया में स्टोन चिप्स के आठ कारोबारियों के यहां अलग अलग स्थानों पर सर्वे की कार्रवाई की.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज