बिहार: तेजस्वी, तेजप्रताप और पप्पू यादव समेत 7 नामजद और 100 अज्ञात लोगों पर केस दर्ज

कृषि बिल के विरोध में पटना में ट्रैक्टर लेकर सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव.
कृषि बिल के विरोध में पटना में ट्रैक्टर लेकर सड़कों पर प्रदर्शन करते हुए तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव.

तेजस्वी, तेजप्रताप और पप्पू यादव (Tejaswi, Tej Pratap and Pappu Yadav) समेत कई नेताओं पर दर्ज FIR में बगैर अनुमति के जुलूस निकालने, कोविड 19, प्रतिबंधित इलाके में प्रदर्शन करने सहित अन्य धाराएं लगायी गयी हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 26, 2020, 7:28 AM IST
  • Share this:
पटना. कृषि बिल (Farm bill) के विरोध में कोरोना काल के मानकों की धज्जियां उड़ाने के आरोप में विरोधी दल नेता तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav), राजद नेता तेज प्रताप यादव ( Tej Pratap Yadav), जाप नेता पप्पू यादव (Pappu Yadav) सहित 100 से अधिक अज्ञात लोगों पर कोतवाली थाने में केस दर्ज करवाया गया है. इन सभी पर आरोप है कि बगैर अनुमति इन नेताओं ने प्रदर्शन किया और सड़क पर उतर गए. इस दौरान भीड़ भी जमा हुई.  रोक के बावजूद राजधानी पटना के बेली रोड जैसे प्रतिबंधित इलाके में प्रदर्शन किया.

सोशल डिस्टेंसिंग, इंडियन डिजास्टर मैनेजमेंट एक्ट, सरकारी काम में बाधा सहित आईपीसी की कई धाराओं के तहत इन सभी पर मामला दर्ज किया गया है. बता दें कि शुक्रवार को कृषि बिल का विरोध करते हुए तेजस्वी यादव समेत सैकड़ों नेताओं ने विरोध प्रदर्शन किया था. हालांकि इस मामले में किसी भी पार्टी के प्रदर्शनकारियों की गिरफ्तारी की बात से पुलिस ने इनकार किया है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को कृषि बिल का विरोध करते हुये भाजपा दफ्तर पहुंचे जन अधिकार पार्टी और भाजपाइ के  कार्यकर्ताओं के बीच पटना के वीरचंद पटेल पथ पर झड़प हो गई थी. इस दौरान आरोप लगा कि जाप कार्यकर्ता भाजपा दफ्तर घुस रहे थे. इसके बाद गुस्साए भाजपा कार्यकर्ताओं ने जाप के प्रदर्शनकारियों को खदेड़-खदेड़कर पीटा था. भाजपाइयों को देखकर जाप के कई कार्यकर्ता भाग खड़े हुए.



भाजपा का आरोप है कि गैरकरानूनी तरीके से जाप के प्रदर्शनकारी उनकी पार्टी ऑफिस के गेट पर चढ़ गये और अपशब्द बोलने लगे. अमर्यादित भाषा को सुन भाजपा कार्यकर्ता आपा खो बैठे. प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने आरोप लगाया है कि किसानों का शोषण कर अपनी राजनीति चमकाने वाले दल और उनके समर्थकों ने बिहार भाजपा मुख्यालय पर हमला कर कायरता का परिचय दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज