Choose Municipal Ward
    CLICK HERE FOR DETAILED RESULTS

    E एजेंडा: वाम दलों से गठबंधन कर बिहार में फिर वर्ग संघर्ष की पृष्ठभूमि तैयार कर रहा राजद- भूपेंद्र यादव

    न्यूज 18 बिहार के मैनेजिंग एडिटर ब्रजेश कुमार सिंह से बात करते हुए भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव.
    न्यूज 18 बिहार के मैनेजिंग एडिटर ब्रजेश कुमार सिंह से बात करते हुए भाजपा के बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव.

    भूपेंद्र यादव ने कहा कि तेजस्वी यादव (Tejaswi Yadav) स्वयं राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के नेता इसलिए बने हैं कि वह लालू जी के सुपुत्र हैं. लेकिन उनमें क्या योग्यता है कि वह खुद कोई नौकरी पा सकें.

    • News18Hindi
    • Last Updated: October 19, 2020, 8:39 PM IST
    • Share this:
    पटना. बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) से पहले देश के सबसे बड़े न्यूज नेटवर्क न्यूज-18 की ओर से चुनाव पर चर्चा के लिए E एजेंडा बिहार (E Agenda Bihar) कार्यक्रम का आयोजन किया गया. डिजिटल प्लेटफार्म पर आयोजित होने वाले इस E एजेंडा बिहार कार्यक्रम में प्रदेश के दिग्गज नेता बिहार चुनाव पर अपनी राय रखी. इसी क्रम में बिहार ब भाजपा के प्रभारी भूपेंद्र यादव (Bhupendra Yadav) ने न्यूज 18 बिहार के मैनेजिंग एडिटर से बात करते हुए अपना पक्ष रखा. इस दौरान उन्होंने राजद पर वर्ग संघर्ष को बढ़ावा देने का आरोप लगाया और बिहार में  एक बार फिर नीतीश सरकार (Nitish Government) की वापसी का भरोसा जताया.

    भूपेंद्र यादव ने कहा कि पहले की तुलना में एनडीए की सरकार के कार्यकाल में बिहार में काफी बदलाव हुआ है. स्थिति का अगर तुलनात्मक अध्ययन करें तो सबसे पहली बात है कि गंगा नदी पर तीन पुल होते थे आज तेरह हो गए. बिहार में दो-तीन मेडिकल कॉलेज होते थे, आज 28 मेडिकल कॉलेज बनने जा रहे हैं.  बिहार के हर जिले में कई इंजीनियरिंग कॉलेज को प्रारंभ हो गए हैं और कई को स्वीकृति मिली है. बिहार में कभी एक एयरपोर्ट पटना होता था, लेकिन आने वाले समय में  दरभंगा शुरू हो रहा है. पूर्णिया और बिहटा में काम जारी है.

    भाजपा नेता ने कहा कि बिहार की  आर्थिक विकास दर बढ़ी है, कृषि उत्पादन बढ़ा है. सामाजिक सेवा की दृष्टि से भी बदलाव हुए हैं. महिलाओं को सत्ता में भागीदारी करने का अवसर मिला है. शराबबंदी हुई है.   प्रशासनिक स्तर पर बदलाव हुए हैं. बीते डेढ़ दशक में  बिहार में बड़ी हिंसा की एक भी घटना नहीं हुई है. इसका मतलब लोकतंत्र और शांति बिहार में साथ-साथ चल रहे हैं. उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव के बारे में कहा कि 15 साल पहले की सरकार थी उसके मुखिया भ्रष्टाचार में जेल में बंद हैं. यह सरकार बहुत पारदर्शिता के साथ जनता के सामने अपना रिपोर्ट कार्ड लेकर जा रही है.




    राजद नेता तेजस्वी यादव द्वारा पहली कैबिनेट में 10 लाख युवाओं को रोजगार देने के वादे पर भूपेंद्र यादव ने कहा कि वह स्वयं राष्ट्रीय जनता दल के नेता इसलिए बने हैं कि वह लालू जी के सुपुत्र हैं. लेकिन तेजस्वी जी मैं क्या योग्यता है कि वह खुद कोई नौकरी पा सकें. इसलिए कुछ भी ऐलान कर देना, या बयान दे देना अलग बात है.

    वामपंथी दलों के साथ राजद के गठबंधन पर भाजपा नेता ने कहा कि  बिहार में एक और वर्ग संघर्ष के दौर की तैयारी की जा रही है. अल्ट्रा माओइज्म या लेनिनिज्म में यकीन रखने वाले दलों के साथ बना गठबंधन यही संकेत दे रहा है. भूपेंद्र यादव ने कहा कि वामपंथी दल इस रणनीति पर चल रहे हैं कि वह तेजस्वी के कमजोर नेतृत्व के साये में खुद का विस्तार कर सकें और बिहार का वातावरण एक बार फिर खराब करें.

    उन्होंने लालू यादव की गैर मौजूदगी पर कहा कि टिकटों का सारा वितरण तो उन्होंने ही किया है, यह हमारे लोकतंत्र की विडंबना ही कही जाएगी कि कोई शख्स जेल में रहते हुए भी ऐसा कर पाता है. वहीं खुद को तेजस्वी यादव की तुलना में यादवों के नेता के तौर पर कैसा मानते हैं, इस सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार में यादव समाज के बहुत सारे एमएलए भारतीय जनता पार्टी, जनता दल यूनाइटेड से भी हैं. यह वर्ग  बिहार में समाजवादी आंदोलन की विचारधारा से जुड़ा हुआ है.

    बीजेपी के घोषणा पत्र आने को लेकर भूपेंद्र यादव ने कहा कि जनता दल यूनाइटेड का एक सात निश्चय का पत्र आया है. इसमें  महिला, युवा और रोजगार जैसे सारे विषयों को संबोधित किया गया है. भारतीय जनता पार्टी का भी संकल्प पत्र आने वाला है. उन शब्दों को रेखांकित करेंगे, लेकिन मैं मानता हूं कि बिहार ने जो आर्थिक विकास की दर से प्राप्त की है वह आगे बढ़ेगी.

    लोजपा के एनडीए से अलग होने पर भूपेंद्र यादव ने कहा कि उन्होंने अपना अलग राह पकड़ी है और मुझे लगता नहीं है कि वह कहीं लड़ाई में अस्तित्व में हैं. हां थोड़े बहुत वोट जरूर काट सकते हैं. उन्होंने चुनाव बाद लोजपा-भाजपा गठबंधन होने की संभावना पर कहा कि गृह मंत्री जी का भी बयान आने के बाद स्थिति और स्पष्ट हुई है और कोई कन्फ्यूजन नहीं है. उन्होंने कहा कि हमारी जदयू के साथ जॉइन्ट बैठकें चल रही हैं प्रधानमंत्री जी की रैलियों के लिए एनडीए के चारों दल मिलकर कर तैयारियां कर रहे हैं.
    अगली ख़बर

    फोटो

    टॉप स्टोरीज