Bihar Assemble Election: चुनाव आयोग का चला डंडा! पद से हटाए गए उत्पाद आयुक्त बी कार्तिकेय धनजी, यह है वजह

बिहार चुनाव को लेकर सख्त हुआ चुनाव आयोग.
बिहार चुनाव को लेकर सख्त हुआ चुनाव आयोग.

बिहार में विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) के दौरान कहीं भी शराब की खपत रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई की जा रही है ताकि चुनाव में कोई बाधा उत्पन्न नहीं हो.

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 30, 2020, 7:58 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा चुनाव को देखते हुए निर्वाचन आयोग (election commission ) ने अधिकारियों पर सख्ती दिखानी शुरू कर दी है. बुधवार को निर्वाचन आयोग ने सख्ती दिखाते हुए बिहार के उत्पाद आयुक्त बी कार्तिकेय धनजी (excise commissioner B Karthikeya Dhanji) को पद से हटा दिया. बी कार्तिकेय 2008 बैच के आईएस अधिकारी हैं. बता दें कि भारत निर्वाचन आयोग की टीम पटना पहुंचकर लगातार बैठकें कर रही है.

गौरतलब है कि चुनाव आयोग की टीम ने बुधवार को सबसे पहले राजनीतिक दलों के साथ बैठक की. इसके बाद बिहार के इंफोर्समेंट अधिकारियों के साथ मीटिंग हुई. इसमें बिहार चुनाव के दौरान शराब को रोकने के लिए प्रभावशाली और कारगर प्रेजेंटेशन नहीं पेश करने के कारण कारण निर्वाचन आयुक्त ने कार्रवाई करते हुए पद से हटा दिया.

बिहार में विधानसभा चुनाव के दौरान कहीं भी शराब की खपत रोकने के लिए कड़ी कार्रवाई की जा रही है ताकि चुनाव में कोई बाधा उत्पन्न नहीं हो. ऐसे में शराब को रोकने के लिए प्रभवशाली प्रेजेंटेशन नहीं देने पर निर्वाचन विभाग ने कठोर करवाई की.



शराबबंदी के बावजूद शराब की खेप पकड़ी जाती रही
बिहार में पूर्ण शराबबन्दी ही बावजूद इसके बिहार में शराब की बड़ी-बड़ी खेप पकड़ी जाती रही है. पुलिस बल और उत्पाद विभाग पर जिम्मेदारी है कि चुनाव के दौरान शराब की खेप लोगों तक नहीं पहुंचे. अगर चुनाव के दौरान शराब की खेप पर रोक नहीं लगाई गई तो चुनाव में असर पड़ सकता है.

चुनाव आयोग लगातार अधिकारियों के साथ कर रहा बैठक
भारत निर्वाचन आयोग की टीम मंगलवार को पटना पहुंची थी. इसके बाद  से पटना में रुककर अधिकारियों के साथ लगातार बैठकें कर रही है. बैठक में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुनील अरोड़ा खुद शामिल रहते हैं.  बुधवार की शाम में 22 जिलों के डीएम और एसपी के साथ चुनाव की तैयरियों को लेकर बैठक हुई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज