Bihar Assembly Election: नड्डा-नीतीश की हुई औपचारिक मुलाकात और 50 मिनट में ही बन गई बात? 
Patna News in Hindi

Bihar Assembly Election: नड्डा-नीतीश की हुई औपचारिक मुलाकात और 50 मिनट में ही बन गई बात? 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और जेपी नड्डा की मुलाकात.

सूत्रों से जो खबर सामने आई है उसके अनुसार यह तय है कि एनडीए (BJP,JDU, LJP) एक साथ ही चुनाव मैदान में आएगी. इस मुलाकात में आने वाले चुनाव में एनडीए (NDA) की रणनीति क्या होगी, इस पर भी चर्चा हुई है

  • News18 Bihar
  • Last Updated: September 12, 2020, 7:35 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार की सियासत के लिहाज से भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (jp nadda  और नीतीश कुमार की महत्वपूर्ण मुलाक़ात शनिवार को हुई. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के सरकारी आवास एक अणे मार्ग पर हुई ये मुलाक़ात लगभग पचास मिनट तक चली. इस दौरान BJP की तरफ़ से बिहार प्रभारी भूपेन्द्र यादव, डिप्टी सीएम सुशील मोदी, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल भी मौजूद थे. वहीं जेडीयू (JDU) की तरफ़ से नीतीश कुमार के अलावा सांसद ललन सिंह भी मौजूद रहे. बताया जा रहा है कि इस मुलाकात के दौरान चिराग़ के साथ विवाद की बात उठा. इसके अलावा  बिहार विधान सभा चुनाव में कौन सी पार्टी कितने सीट पर चुनाव लड़ेगी, इस पर भी चर्चा हुई.

सूत्रों से जो खबर सामने आई है उसके अनुसार यह तय है कि एनडीए एक साथ ही चुनाव मैदान में आएगी. इस मुलाकात में आने वाले चुनाव में एनडीए की रणनीति क्या होगी, इस पर भी चर्चा हुई है. गौरतलब है कि बिहार में चुनाव के पहले ये पहली औपचारिक मुलाक़ात थी. NDA  के बड़े नेताओं की बैठक में जो सबसे अच्छी तस्वीर जो दिखी वो थी जब नीतीश कुमार ने जेपी नड्डा को शॉल ओढ़ाकर कर सम्मानित किया. उस वक़्त जे पी नड्डा के चेहरे की मुस्कुराहट ये साफ़-साफ़ इशारा कर रही थी की मुलाक़ात सौहार्दपूर्ण वातावरण में हुई और NDA में सब कुछ ठीक ठाक है.





दरअसल इसके ठीक बाद ही चिराग पासवान का भी बयान आया और उन्होंने साफ कर दिया कि वे एनडीए में ही बने रहेंगे. उन्होंने मांझी को भी बुजुर्ग बताया और उनका सम्मान करने की बात कही. साथ ही पीएम मोदी में अटूट विश्वास होने की बात कह कर सभी आशंकाओं को खत्म कर दिया. साथ ही यह भी कहा कि वे किसी को, यानी नीतीश कुमार को कोई टेंशन नहीं देना चाहते  हैं.
बहरहाल नड्डा-नीतीश मुलाकात से जो सूत्रों से  एक और महत्वपूर्ण खबर सामने आ रही है वह ये कि जेडीयू बिहार में बड़े भाई की भूमिका में रहना चाहती है और इसका इशारा भी जेडीयू की तरफ़ से समय-समय पर दिया जाता रहा है. मुलाक़ात को लेकर बिहार की सियासत की नज़रें भी टिकी हुई थी.  बहरहाल सीटों के साथ साथ बीजेपी और जेडीयू के बीच चुनाव से जुड़ी कई महत्वपूर्ण मसले जैसे प्रचार की रणनीति, चुनावी मुद्दा , सहित  कई अन्य मसले पर भी चर्चा होने की ख़बर है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज