नीतीश के बयान पर बोले JDU नेता- जनता जब चाहेगी तब न, ऐसे कैसे छोड़ देंगे

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (फाइल फोटो)

जदयू (JDU) ने आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा है कि इस चुनाव के प्रचार का यह मेरा अंतिम दिन है. जदयू ने साफ किया है कि बिहार की जनता जब तक चाहेगी नीतीश कुमार काम करते रहेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 6, 2020, 7:42 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में तीसरे चरण का चुनाव प्रचार समाप्त हो चुका है, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के एक बयान से सियासत में तूफान मचा रखा है. दरअसल, बिहार विधानसभा चुनाव के आखिरी चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन गुरुवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि अंत भला तो सब भला. उनके मुंह से इससे पहले यह भी निकला कि यह मेरा आखिरी चुनाव है. इस बात को कई राजनीतिक दलों ने उनके राजनीतिक संन्यास से जोड़ दिया और तेजस्वी यादव एवं चिराग पासवान (Tejashwi Yadav and Chirag Paswan) जैसे नेता हमलावर हो गए. हालांकि, JDU ने बाद में सफाई देते हुए कहा कि सीएम के कहने का आशय कुछ और था.

JDU ने आधिकारिक बयान जारी कर बताया कि नीतीश कुमार ने कहा है कि इस चुनाव के प्रचार का यह मेरा अंतिम दिन है. जदयू ने साफ किया है कि बिहार की जनता जब तक चाहेगी नीतीश कुमार काम करते रहेंगे. नीतीश कुमार ने खुद भी कहा है कि जनता की सेवा करना मेरा काम है और मेवा लूटना औरों का.

हालांकि, नीतीश के बयान को लेकर विपक्ष के पाले से सियासी बयानबाजी तेज हो गई. एकबारगी तो JDU के नेता भी नीतीश के इस बयान के सन्न रह गए. नीतीश मंत्रिमंडल के मंत्री और JDU नेता ख़ुर्शीद आलम ने कहा कि ऐसे कैसे छोड़ देंगे, जनता जब चाहेगी तब ही न जाएंगे नीतीश कुमार. नीतीश जनता के नेता हैं. ख़ुर्शीद आलम ने विरोधियों के नीतीश के आख़िरी चुनाव वाले बयान पर चुटकी लेने पर कहा कि आज तक बिहार में किसी नेता ने ऐसी घोषणा पहले की है, नीतीश कुमार ही ऐसा कर सकते हैं.



मुख्यमंत्री के बयान पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा है कि नीतीश कुमार ने सामने हार देख कर ही अपने रिटायरमेंट की घोषणा की है, नहीं तो वे चुनाव शुरू होने के पहले ही अपने संन्यास के बारे में लोगों को अवगत करा देते. पटना में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि नीतीश कुमार और सुशील मोदी अगर माफी मांग कर रिटायरमेंट की घोषणा करते तो यह बिहार के लिये बेहतर होता.
कांग्रेस के बयान पर केंद्रीय गृह राज्यमंत्री नित्यानन्द राय ने कहा कांग्रेस और आरजेडी भ्रम फैला रही है. बिहार की जनता हकीकत जानती है. जहां मोदी हैं, वहीं विश्वास है, वहीं विकास है. जहां नीतीश हैं वहीं रोजगार है. कांग्रेस हताशा और निराशा में बयान दिए जा रही है. जब उनको हार निश्चित लग रही है तो इस हरकत पर उतर आए हैं.

सीएम के बयान पर भाजपा नेता मनोज तिवारी ने कहा नीतीश कुमार ने दिल से सेवा की है और दिल से वो वोट मांग रहे हैं. बिहार पीएम मोदी और सीएम नीतीश कुमार के साथ है. नीतीश चौथी बार मुख्यमंत्री बनने जा रहे हैं और वो दिल से समर्थन मांग रहे हैं. उन्होंने बिहार को संवारा है सो उन्हें ऐसे वोट मांगने का अधिकार है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज