बिहार चुनाव: पीएम मोदी की तस्वीरों का इस्तेमाल नहीं कर पाएगी LJP! चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखेगी बीजेपी

सुशील कुमार मोदी और नीतीश कुमार.
सुशील कुमार मोदी और नीतीश कुमार.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार(Nitish Kumar) ने कहा कि कुछ लोगों द्वारा भ्रम फैला रहा है. चिराग पासवान (Chirag Paswan) को लेकर कहा कि बीजेपी और जेडीयू के बीच कोई कन्फ्यूजन नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 6, 2020, 11:40 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार में एनडीए (NDA) की सीट शेयरिंग डील फाइल हो गई और ऐलान कर दिया गया कि लोजपा गठबंधन से बाहर हो गई है और उसकी जगह हिंदुस्तानी मोर्चा और विकासशील इंसान पार्टी (VIP) की एंट्री हो गई है. 122 सीटों जेडीयू (JDU) चुनाव लड़ेगी तो बीजेपी 121 सीटों पर चुनाव मैदान में जाएगी. इसमें क्लीयकर कर दिया गया कि जेडीयू की 122 में सात सीटें हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा को 7 तो बीजेपी अपनी 121 सीटों में 9 सीटें विकासशील इंसान पार्टी को देगी. इस बीच बीजेपी-जेडीयू नेताओं की ओर से स्पष्ट किया गया कि चिराग पासवान द्वारा सीएम नीतीश कुमार (Nitsh Kumar) पर उठाए जा रहे सवालों को गठबंधन स्वीकार नहीं करेगा.

डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने इस पर आगे कहा कि बिहार में एनडीए में नीतीश के चेहरे का साथ देने वाला ही रहेगा. बिहार में सिर्फ चार दलो का गठबंधन है. अगर जरूरत हुई तो चुनाव आयोग को लिखकर देंगे कि यही चार दल पीएम के तस्वीर के इस्तेमाल कर सकते हैं. यानी लोजपा बिहार में पीएम मोदी के चेहरे के इस्तेमाल नहीं कर सकती है.

इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कुछ लोगों द्वारा भ्रम फैला रहा है. चिराग पासवान (Chirag Paswan) को लेकर कहा कि बीजेपी और जेडीयू के बीच कोई कन्फ्यूजन नहीं है. किसी को कुछ कहने से आनंद आता है तो करे. जो कहना चाहते है वो कहते रहे, हमें कोई फर्क नहीं पड़ता. उन्होंने कहा कि राम विलास पासवान के राज्य सभा जाने में जेडीयू ने मदद की थी.




वहीं सुशील मोदी ने यह भी स्पषट किया कि राम विलास पासवान से हमारा पुराना लगाव है इसलिए वह केंद्र में मंत्री बने रहेंगे, लेकिन यह भी साफ है कि जो नीतीश को स्वीकार नहीं करेगा वह बिहार एनडीए में नहीं रहेगा.
बता दें कि इससे ठीक पहले आज बीजेपी के नेता मुख्यमंत्री से मिलने सीएम आवास पहुंचे थे. बीजेपी नेता बिहार चुनाव प्रभारी देवेंद्र फडनवीस, बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव, डिप्टी सीएम सुशील मोदी और प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल की मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ डेढ़ घंटे तक मुलाकात हुई.


सीट शेयरिंग की डील फाइनल होने से पहले भाजपा के कई बड़े नेताओं ने सीएम नीतीश कुमार (Nitish Kumar) से मुलाकात की थी. इसके बाद भाजपा अध्यक्ष संजय जायसवाल (Sanjay Saisawal) ने चिराग पासवान (Chirag Paswan) को साफ संदेश देते हुए कहा है कि अगर वह नीतीश कुमार का नेतृत्व नहीं स्वीकार करते तो एनडीए से भी हटना पड़ेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज