बिहार चुनाव: मोदी-नीतीश के विरोध में पप्पू यादव के साथ आएंगे प्रकाश अंबेडकर! कुशवाहा को लेकर यह कयास

वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश अंबेडकर भी बिहार चुनाव के मैदान में. (फाइल फोटो)
वंचित बहुजन अघाड़ी के प्रमुख प्रकाश अंबेडकर भी बिहार चुनाव के मैदान में. (फाइल फोटो)

प्रकाश अंबेडकर (Prakash Ambedkar) ने घोषणा की कि वे बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election,) में एनडीए (NDA) के खिलाफ लड़ने के लिए समान विचारधारा वाले धर्मनिरपेक्ष दलों से हाथ मिलाएंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 29, 2020, 4:47 PM IST
  • Share this:
पटना. जन अधिकार पार्टी (JAP) के अध्यक्ष व पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव (Pappu Yadav) लगातार इस कोशिश में हैं की बिहार में थर्ड फ्रंट के रूप में एक बड़ा गठबंधन बने. इसी क्रम में पप्पू यादव ने  जन अधिकर पार्टी , चंद्रशेखर आजाद 'रावण' की आजाद समाज पार्टी,  एमके फैजी की SDPI, वीएल मतंग की बहुजन मुक्ति पार्टी को मिलाकर प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (UDA) बनाया है. वे अपने फ़्रंट PDA को बढ़ाने की क़वायद में प्रकाश अंबेडकर की पार्टी वंचित बहुजन अघाड़ी (VBA) से गठबंधन की कोशिश कर रहे हैं. इसी क्रम में पटना के एक निजी होटल में  पप्पू यादव ने प्रकाश अंबेडकर (Prakash Ambedkar) से मुलाकात भी की. हालांकि फिलहाल कुछ साफ-साफ तो पप्पू यादव ने नहीं बताया, लेकिन इतना जरूर इशारा किया कि बहुत जल्द गठबंधन में कई और पार्टियां शामिल होंगी.

बता दें कि प्रकाश अंबेडकर ने सोमवार को घोषणा की कि वे बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए (NDA) के खिलाफ लड़ने के लिए समान विचारधारा वाले धर्मनिरपेक्ष दलों से हाथ मिलाएंगे. प्रकाश अंबेडकर ने मीडिया से बातचीत में कहा कि वंचित बहुजन अघाड़ी (VBA) एनडीए (NDA) के खिलाफ लड़ेगी,  इसलिए उन्होंने बिहार में एंटी-एनडीए फ्रंट में औपचारिक रूप से शामिल होने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य एनडीए (NDA) को हराना है.

बता दें कि प्रकाश अंबेडकर वंचित बहुजन अघाड़ी के अध्यक्ष होने के साथ ही संविधान निर्माता बाबा साहेब डॉ भीमराव अंबेडकर के पोते हैं. वह राजनेता होने के साथ ही सामाजिक कार्यकर्ता और वकील भी हैं. उन्होंने साल 2018 में वंचित बहुजन अघाड़ी की स्थापना की.ambed वह लोकसभा और राज्यसभा दोनों के सदस्य भी रह चुके हैं.




इसी बीच उपेन्द्र कुशवाहा मायावती की बहुजन समाजवादी पार्टी से गठबंधन कर एक नया मोर्चा तैयार करने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि खबर यह भी है कि पप्पू यादव ये चाहते हैं कि र प्रगतिशील लोकतांत्रिक गठबंधन (UDA) से कोई बड़ा चेहरा जुड़े और इसी कोशिश में पप्पू यादव ने उपेंद्र कुशवाहा से लगातार मुलाकात की है.  सूत्रों की माने तो उपेंद्र कुशवाहा आने वाले दिनों में इस गठबंधन में शामिल हो सकते हैं. वैसे पप्पू यादव ने वर्तमान राजनीति को देखते हुए चिराग पासवान और कांग्रेस को भी साथ आने का न्योता दे दिया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज