Bihar Election: सीट बंटवारे पर महागठबंधन में डील फाइनल नहीं! कांग्रेस बोली- आलाकमान के आदेश का इंतजार

पटना के पार्टी कार्यालय में मीटिंग करते हुए कांग्रेस नेता.
पटना के पार्टी कार्यालय में मीटिंग करते हुए कांग्रेस नेता.

कांग्रेस (Congress) का दावा है कि महागठबंधन (Mahagathbandhan) से दो प्रमुख दल, रालोसपा (RLSP) और हम (HAM), बाहर हो गये हैं इसलिए उसे अधिक सीटें मिलनी चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2020, 8:22 PM IST
  • Share this:
पटना. महागठबंधन (Grand alliance) में सीट शेयरिंग का मसला अभी उलझा हुआ है. खास तौर पर दो बड़े दल, राजद और कांग्रेस ने के बीच काफी तल्खी दिख रही है. राजद (RJD) नेताओं ने तो मौजूदा हालात के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहरा दिया है. वहीं, कांग्रेस नेता हरखू झा (Harkhu Jha) ने कहा कि  दिल्ली में दोनों पार्टियों के आलाकमान  के बीच राजद के 140--150 सीटों  पर और कांग्रेस के 70-80 सीटों पर  चुनाव लडने का फैसला हुआ था. शीर्ष नेतृत्व के फैसले पर कांग्रेस अब भी कायम है. यही नहीं महागठबंधन में सीट शेयरिंग पर अब तक फैसला नहीं हुआ है लेकिन, कांग्रेस ने सीटिंग सीटों पर सिम्बल देने का फैसला ले लिया है.

बता दें कि कांग्रेस का दावा है कि महागठबंधन से दो प्रमुख दल, रालोसपा और हम, बाहर हो गये हैं इसलिए उसे अधिक सीटें मिलनी चाहिए. कांग्रेस ने कहा कि हम राजद नेताओं के बयान पर नहीं बल्कि अपने आलाकमान के फैसले का इंतजार कर रहे हैं. वहीं, RJD सांसद मनोज झा के बयान से भी साफ हो रहा है कि दोनों पार्टियों के बीच अभी भी सबकुछ ठीक नहीं है.

मनोज झा ने आज पटना में मीडियाकर्मियों से बात करते हुए कहा कि कोई भी गठबंधन बहुत सहज प्रवृत्ति से घंटे भर में तैयार नहीं होता. उधर के हालात से आप वाकिफ हैं. गठबंधन जब इसको कहते हैं तब इसका मतलब है इसके अंदर हमेशा सीट समन्वय और उम्मीदवार को लेकर थोड़ा वक्त लगता है. सब बहुत जल्द हो जाएगा.




वहीं, राजद नेता भोला यादव ने कहा कि भी 150 पार्टी सिंबल पर आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव का सिग्नेचर करवा आए हैं और सिंबल बटना शुरू हो गया है. गठबंधन में निश्चित समय पर सब ठीक हो जाएगा, थोड़ा धर्य रखें. बता दें कि राजद प्रवक्ताओं ने पिछले दिनों कांग्रेस पर हठधर्मिता का आरोप लगाया था, जिससे कांग्रेस नाराज हो गई थी.

इधर पार्टी के वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा है कि 27 सीटों पर जीतने वाली कांग्रेस को 54 सीटें ही मांगनी चाहिए.  राहुल गांधी को प्रधानमंत्री के तौर पीएम कैंडिडेट के तौर पर प्रोजेक्ट करने पर तमाम सवाल उठाए जा रहे थे, लेकिन साथ राजद ने ही दिया था. वहीं, कांग्रेस ने भी राजद पर हमला बोलना शुरू कर दिया है. पार्टी प्रवक्ता नेता हरखू झा ने कहा कांग्रेस कि हम आलाकमान के फैसले का इंतजार कर रहे हैं. हमने सभी 243 सीटों पर तैयारी कर रखी है और जो निर्देश आएगा उसके अनुसार हम चुनाव में जाएंगे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज