तेजस्वी का तंज- CM नीतीश इतिहास के बासी पन्नों पर बोलते हैं पर नीति आयोग की रिपोर्ट पर नहीं

तेजस्वी यादव.  (फाइल फोटो)
तेजस्वी यादव. (फाइल फोटो)

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) अपनी चुनावी सभाओं में 'लालू यादव के जंगल राज' की अक्सर याद दिलाते हैं. नीतीश लोगों को 15 साल पहले के बिहार की तस्वीर दिखाते हुए पूछते हैं कि हमारे शासन से पहले बिहार का क्या हाल था?

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 31, 2020, 11:56 AM IST
  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejaswi yadav) ने आज एक बार फिर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर हमला बोला है. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश जी असल मुद्दे से लोगों को भटकाना चाहते हैं. असल मुद्दे को हमने कल भी दोहराया है कि कमाई, सिंचाई, पढ़ाई और दवाई ही असल मुद्दे हैं. लेकिन, इसपर नीतीश जी नहीं बोलते हैं. जिन बातों की आज जरूरत नही उसपर वो बात करते हैं. नीतीश जी इतिहास के बासी पन्नों पर बोलते हैं, लेकिन नीति आयोग (Niti Ayog) की रिपोर्ट में सबसे पीछे बिहार है, इसपर क्यों नहीं बोलते?

तेजस्वी यादव शनिवार को 17 जनसभाओं को संबोधित करने पटना से रवाना होते समय राजद नेता ने BJP के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा को भी आड़े हाथों लिया. तेजस्वी ने कहा कि जेपी नड्डा जी लोगों को गुमराह ना कं.रे नड्डा जी को मै खुली चुनौती देता हूं कि जिस मुद्दे पर वो जहा चाहें हमसे बहस कर लें. नीतीश जी के खिलाफ तो हमने कुछ गलत बोला नहीं, लेकिन नेता प्रतिपक्ष जनता की बात नहीं बोलेगा तो कौन बोलेगा?

बता दें कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अपनी चुनावी सभाओं में 'लालू यादव के जंगल राज' की अक्सर याद दिलाते हैं. नीतीश लोगों को 15 साल पहले के बिहार की तस्वीर दिखाते हुए पूछते हैं कि हमारे शासन से पहले बिहार का क्या हाल था? शाम के बाद किसी को अपने घर से निकलने की हिम्मत थी? कितनी घटनाएं घटती थीं सामूहिक नरसंहार की?



सीएम नीतीश ने शुक्रवार को एक चुनावी सभा में लालू यादव पर कटाक्ष करते हुए कहा था कि जब वह जेल जा रहे थे तो अपनी पत्नी को मुख्यमंत्री बना दिए. जाहिर है तेजस्वी ऐसे ही आरोपों को बासी पन्ना बता रहे हैं और सीएम नीतीश कुमार पर बिहार की वर्तमान स्थिति से मुख मोड़ने का आरोप लगा रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज