बिहार चुनाव: सीट शेयरिंग की फाइनल डील पर अमित शाह लगाएंगे मुहर! चिराग से आज होगी मुलाकात

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फ़ाइल फोटो)
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (फ़ाइल फोटो)

Bihar Assembly Elections 2020: सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार भाजपा (BJP) चिराग पासवान (Chirag Paswan) को मनाने की कोशिश करेगी. अगर सब ठीक रहा तो जल्द ही सीट शेयरिंग का ऐलान कर दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2020, 11:54 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बिहार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी के नेताओं की बड़ी बैठक दिल्ली में बुलाई गई है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर चल रही इस बैठक में गृह मंत्री अमित शाह ( Amit Shah), बिहार के चुनाव प्रभारी देवेंद्र फणनवीस, बिहार बीजेपी अध्यक्ष संजय जायसवाल और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री नित्यानंद राय शामिल हैं. सूत्रों के अनुसार, इस बैठक में बिहार एनडीए (Bihar NDA) में सीट शेयरिंग पर चर्चा हो रही है और लोक जन शक्ति पार्टी के साथ  गठबंधन के फॉर्मूले पर भी चर्चा हो रही है. मिली जानकारी के अनुसार बैठक के बाद अमित शाह के साथ लोजपा अध्यक्ष चिराग़ पासवान (Chirag Paswan) की भी बैठक हो सकती है, जिसके बाद सीट बंटवारे को लेकर तस्वीर साफ हो जाएगी.

इस बीच JDU के भी शीर्ष नेताओं को दिल्ली बुलाया गया है. जानकारी के मुताबिक, जेडीयू की तरफ से टिकट पर बातचीत कर रहे सांसद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह दिल्ली में बीजेपी और जेडीयू के नेताओं के बीच फाइनल बातचीत करेंगे. कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि दिल्ली में ही पहले राउंड का टिकट फाइनल करने के बाद आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा की जाएगी.





सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, भाजपा पहले चिराग पासवान को मनाने की कोशिश करेगी. अगर सब ठीक रहा तो हो सकता है कि बुधवार की शाम या गुरुवार को सीट शेयरिंग का ऐलान कर दिया जाएगा. हालांकि, बिहार एनडीए इसके लिए भी फॉर्मूला तैयार कर चुकी है कि अगर चिराग पासवान अलग होते हैं तो फिर आगे सीट शेयरिंग का स्वरूप क्या होगा.
बुधवार को जेडीयू-बीजेपी और मांझी की पार्टी के बीच तालमेल का औपचारिक ऐलान किया जा सकता है. सूत्रों के हवाले से मिल रही खबर के मुताबिक अगर लोजपा एनडीए का साथ छोड़ती है तो जेडीयू के हिस्से में 127 सीटें आएंगी. हालांकि, इसकी आधिकारिक पुष्टि अभी नहीं हुई है. ऐसे में सीटों का गणित चिराग के फैसले के बाद बदल भी सकती है.

दरअसल, सभी की निगाहें चिराग पासवान के फैसले पर ही है और लोजपा के भी अधिकांश नेता दिल्ली में डेरा डाले हुए हैं. ऐसे में अब सब इस बात का इंतजार कर रहे हैं कि कब अमित शाह और चिराग पासवान की मीटिंग होती है और बिहार एनडीए में सीट शेयरिंग की फाइनल तस्वीर क्या उभरती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज