विधानसभा चुनाव: ट्रिपल C की चिंगारी से सुलगी बिहार की सियासात, NDA सरकार पर हमलावार हुई कांग्रेस
Patna News in Hindi

विधानसभा चुनाव: ट्रिपल C की चिंगारी से सुलगी बिहार की सियासात, NDA सरकार पर हमलावार हुई कांग्रेस
कांग्रेस ने एनडीए सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हैं. सांकेतिक फोटो.

बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) के चुनावी साल में कांग्रेस (Congress) ने ट्रिपल सी को मुद्दा बनाकर एनडीए सरकार (NDA Government) पर हमला बोला है.

  • Share this:
पटना. बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) के चुनावी साल में कांग्रेस (Congress) ने ट्रिपल सी को मुद्दा बनाकर एनडीए सरकार (NDA Government) पर हमला बोला है. कांग्रेस की मानें तो बिहार की मौजूदा सरकार ने क्राइम में फेल करप्शन में पास और कास्ट में अव्वल दर्जा हासिल किया है. कांग्रेस के इस ट्रिपल सी राजनीति ने बिहार की राजनीति को सुलगा दिया है. 2020 में बिहार विधानसभा चुनाव होना है और ऐसे में महागठबंधन और एनडीए की सभी पार्टियां खुद को मजबूत करने के अलावा विरोधियों पर ताबड़तोड़ हमले करने में जुटी हैं.

कांग्रेस ने भी संगठन को मजबूत करने के अलावा एनडीए सरकार पर ताबड़तोड़ हमले करने शुरू कर दिए हैं. कभी बिहार की सत्ता पर सालों तक काबिज रही कांग्रेस ने बिहार में ट्रिपल सी की नई पॉलिटिक्स शुरू की है. कांग्रेस का मानना है की क्राइम करप्शन और कास्ट मोर्चों पर मौजूदा एनडीए सरकार विफल है. कांग्रेस ने बजाप्ता राजधानी पटना की हर चौक चौराहे पर क्राइम करप्शन और कास्ट से संबंधित पोस्टर भी चस्पा किए हैं. पोस्टर लगाने वाले कांग्रेसियों की मानें तो राजद के शासनकाल की तुलना में बिहार में अपराध का ग्राफ 200 परसेंट बढ़ा है.

ये भी पढ़ें: आनंदपाल एनकाउंटर केस: CBI जांच के बीच राजपूत नेताओं पर दर्ज FIR वापस ले सकती है गहलोत सरकार



भ्रष्टाचार के आरोप
कांग्रेस का आरोप है कि भ्रष्टाचार में भी एनडीए की पार्टियां का कोई सानी नहीं है. इन नेताओं की मानें तो बिहार विधान परिषद के हालिया चुनाव में भी एनडीए ने सामाजिक न्याय के अपने नारे को पूरी तरीके से तिलांजलि दे दी है. पोस्टर के माध्यम से कांग्रेस की इस राजनीति को दर्शानेवाले पूर्व सचिव सिद्धार्थ क्षत्रिय हों या फिर पार्टी प्रवक्ता राजेश राठौड़, ये दोनों नेता दावा करने से नहीं थकते की आज बिहार की मौजूदा एनडीए सरकार ने किस कदर बढ़ते क्राइम के आगे घुटने टेक करप्शन को बढ़ावा दिया है.

मिला ये जवाब
नीतीश की पार्टी जदयू के नेता हों या फिर भाजपा के नेता. कांग्रेस के आरोपों को बेबुनियाद करार देते हुए सिरे से खारिज करते नजर आते हैं. इन नेताओं की मानें तो कांग्रेस अतीत में खुद इसी दौर से गुजर चुकी है और ऐसे में उसे इन मुद्दों पर बोलने का कोई अधिकार नहीं है. जदयू प्रवक्ता राजीव रंजन और  बीजेपी  प्रवक्ता निखिल आनन्द ने कोंग्रेस की ट्रिप्प्ल सी पॉलिटिक्स पर हमला बोला है. उनका कहना है कि कांग्रेस पहले खुद के कार्यकाल की समीक्षा करे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading