Bihar Assembly Elections: कांग्रेस-RJD में नहीं बन रही बात! राजद बोला- कोई कॉम्प्रोमाइज नहीं होगा
Patna News in Hindi

Bihar Assembly Elections: कांग्रेस-RJD में नहीं बन रही बात! राजद बोला- कोई कॉम्प्रोमाइज नहीं होगा
तेजस्वी यादव की फाइल फोटो

Bihar Assembly Election: बीजेपी प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने भी कहा है कि महागठबंधन (Grand Alliance) में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. कोई पार्टी तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को नेता मानने को तैयार नहीं है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 17, 2020, 2:28 PM IST
  • Share this:
पटना. क्या महागठबंधन (Grand Alliance) में सबकुछ ठीक नहीं है? ये सवाल इसलिए उठ रहा है कि अब जल्द ही बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Election) की तारीखों का ऐलान हो सकता है. वहीं, महागठबंधन में शामिल दलों के बीच सीट शेयरिंग और सीएम फेस (CM Face) को लेकर अभी तक बात बनती नहीं दिख रही है. चुनाव के पहले जो तस्वीर दिख रही है वह यह है कि महागठबंधन के बड़े घटक दल राजद और कांग्रेस (RJD and Congress) के बीच न तो दिल्ली और न ही पटना (Patna) में कोई बातचीत ही हो रही है. वहीं खबर ये भी है कि कांग्रेस ने करीब 200 सीटों की तैयारी कर रही है. जाहिर है इस अलायंस में शामिल सभी दलों के कार्यकर्ता असमंजस की स्थिति में हैं.

महागठबंधन में इस कन्फ्यूजन की स्थिति को लेकर अब बीजेपी-जेडीयू की ओर से भी सवाल उठाए जाने लगे हैं. कांग्रेस के आरजेडी के साथ सीट बंटवारे पर कोई बात नहीं बनने और तेजस्वी को नेता नहीं मानने पर बीजेपी ने प्रवक्ता निखिल आनंद ने तंज कसते हुए कहा है कि गठबंधन के सभी घटक धीरे धीरे निकल रहे हैं. कांग्रेस आरजेडी को औकात दिखाना चाहती है. कांग्रेस को पता है कि बिना आरजेड़ी के खत्म हुई कांग्रेस मजबूत नहीं होगी इसलिए तेजावी अकेले हो जाएंगे.

BJP ने कसा तंज
बीजेपी प्रवक्ता प्रेम रंजन पटेल ने कहा कि महागठबंधन में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है. कोई पार्टी तेजस्वी को नेता मानने को तैयार नहीं है. कांग्रेस लोकसभा चुनाव में एक सीट बचाने के बाद अपनी हैसियत को बड़ा आंकने लगी है. कांग्रेस भले ही तेजस्वी यादव के नेतृत्व को नहीं स्वीकार कर रही है, लेकिन RJD ने साफ कर दिया है कि महागठबंधन का चेहरा तेजस्वी यादव ही होंगे. किसी को कोई कंफ्यूजन नहीं होना चाहिए और न ही इसपर RJD कम्प्रोमाइज करेगी.
राजद ने कहा- राहुल ने स्वीकार नेतृत्व


इस बीच RJD प्रवक्ता ने कहा कि तेजस्वी का नेतृत्व स्वीकारने की बात राहुल गांधी तक ने कही थी, इसलिए अब इसपर कोई चर्चा नहीं होनी चाहिए. कांग्रेस और आरजेडी के बीच चल रहे घमासान के बीच उपेंद्र कुशवाहा की रालोसपा आरजेडी के समर्थन में खड़ी हो गई है. रालोसपा के महासचिव माधव आनंद में कहा कि आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी है और उसकी भूमिका सबसे बड़ी है. ऐसे में राजद ने तेजस्वी को नेता घोषित कर दिया है, जल्द ही गठबंधन के सभी घटक बैठक कर अपनी राय बता देंगे.

कांग्रेस बोली- बैठक के बाद निर्णय
वहीं कांग्रेस प्रवक्ता राजेश राठौर ने कहा कि गठबंधन बैठक के बाद ही तेजस्वी नेता घोषित होंगे. गठबंधन में सीट को लेकर कोई दिक्कत नहीं होगी. हालांकि आरजेडी-कांग्रेस के बीच रार का ये सवाल अब भी प्रासंगिक इसलिए है, क्योंकि कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के देश से बाहर होने के कारण अब सीटों का अंतिम निर्णय कौन लेगा. यह अनिश्चय की स्थिति बनी हुई है. आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद भी जेल में बंद हैं और राष्ट्रीय स्तर फिलहाल सीट शेयरिंग को लेकर कोई बातचीत नहीं चल रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज