आत्मनिर्भर बिहार का वादा होगा सच, उद्योगों के लिए आए 6199 करोड़ के निवेश प्रस्ताव : शाहनवाज हुसैन

बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने जून के अंत तक बिहार में 10 हजार करोड़ से अधिक निवेश लाने का दावा किया है.

बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने जून के अंत तक बिहार में 10 हजार करोड़ से अधिक निवेश लाने का दावा किया है.

बिहार में उद्योग लगाने के लिए 6 हजार 199 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आ चुके हैं. बिहार के उद्योग मंत्री शहनवाज हुसैन ने इसकी जानकारी देते हुए जून के अंत तक बिहार में 10 हजार करोड़ से अधिक निवेश लाने का दावा किया है.

  • Share this:

पटना. पूरे देश में कोरोना महामारी की वजह से आर्थिक गतिविधि धीमी पड़ गई है. बिहार में भी आर्थिक गतिविधि पर कोरोना की वजह से काफी असर पड़ा है, लेकिन बिहार में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए निवेश प्रस्तावों पर कोरोना महामारी का कोई असर नहीं है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में मौजूदा एनडीए सरकार के गठन के बाद से अब तक बिहार में उद्योग लगाने के लिए 6 हजार 199 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव आ चुके हैं. बिहार के उद्योग मंत्री शहनवाज हुसैन ने इसकी जानकारी देते हुए जून के अंत तक बिहार में 10 हजार करोड़ से अधिक निवेश लाने का दावा किया है.

इन क्षेत्रों में आए निवेश के प्रस्ताव

बिहार में ईथेनॉल उत्पादन, ऑक्सीजन उत्पादन, फूड प्रोसेसिंग, हेल्थकेयर, मैन्यूफैक्चरिंग, प्लास्टिक और रबर जैसे विभिन्न उद्योगों की स्थापना के लिए लगभग सभी जिलों के लिए निवेश प्रस्ताव प्राप्त हुए हैं. मुजफ्फरपुर और बेगूसराय जिलों में सबसे अधिक हजार-हजार करोड़ का निवेश प्रस्ताव यानी इन दो जिलों को मिलाकर ही 2000 करोड़ से ज्यादा के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हो चुके हैं.

उद्योग मंत्री ने कही ये बात
बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा 'बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में आत्मनिर्भर बिहार का संकल्प पूरा होकर रहेगा. बिहार में उद्योग लगाने के इच्छुक आवेदनकर्ताओं की कमी नहीं है.' शाहनवाज हुसैन ने कहा 'अभी तक विभिन्न उद्योगों के लिए कुल 6 हजार 199 करोड़ रुपये के निवेश प्रस्ताव प्राप्त हो चुके हैं और जून के आखिर तक करीब 2000 करोड़ का निवेश प्रस्ताव और आ सकता है, क्योंकि 30 जून तक इथेनॉल पॉलिसी के तहत आवेदन आना है.' शाहनवाज हुसैन ने कहा 'मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में लाई गई इथेनॉल उत्पादन प्रोत्साहन नीति और ऑक्सीजन उत्पादन नीति को लेकर निवेशकों में रुझान जबरदस्त है और देश की नामी कंपनियों ने बिहार में निवेश की इच्छा जाहिर की है.'

आत्मनिर्भर बिहार का दिया था नारा

एनडीए सरकार ने चुनाव में बिहार के औद्योगिक विकास का वादा किया और आत्मनिर्भर बिहार का नारा दिया था. इसे लेकर बिहार की एनडीए सरकार मिशन मोड पर है. सरकार की प्राथमिकता राज्य में बड़े पैमाने पर औद्योगिक निवेश को बढ़ावा देना है. राज्य को बड़े पैमाने पर मिल रहे निवेश प्रस्ताव से साफ है कि बिहार में औद्योगिक विकास की अच्छी जमीन तैयार हो चुकी है, जल्द इनका शानदार परिणाम भी देखने को मिलेगा.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज