सोन नदी की उफनती धारा में पटना पुलिस और बालू माफिया के बीच मुठभेड़

सोन नदी के बीचों-बीच बालू माफियाओं पर कार्रवाई करने के दौरान बिहटा पुलिस पर हुए फायरिंग की पुष्टि करते हुए दानापुर एएसपी मनोज तिवारी ने कहा कि बालू माफियाओं के खिलाफ बिहटा पुलिस की ये बड़ी कार्रवाई थी.

News18 Bihar
Updated: September 13, 2018, 9:32 AM IST
सोन नदी की उफनती धारा में पटना पुलिस और बालू माफिया के बीच मुठभेड़
प्रतीकात्मक फोटो
News18 Bihar
Updated: September 13, 2018, 9:32 AM IST
बिहार की राजधानी पटना के निकट बिहटा  में अवैध बालू खनन माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करने गई पुलिसकर्मियों पर फायरिंग की गई है. बुधवार को सोन नदी के बीचों-बीच बालू माफियाओं पर कार्रवाई करने के दौरान बिहटा पुलिस पर हुए फायरिंग की पुष्टि करते हुए दानापुर एएसपी मनोज तिवारी ने कहा कि बालू माफियाओं के खिलाफ बिहटा पुलिस की ये बड़ी कार्रवाई थी.

एएसपी ने कहा कि इससे भी बड़ी कार्रवाई हो सकती थी यदि साधन पूरे होते. नदी के बीचों-बीच कार्रवाई करना काफी कठिन होता है. ऐसे में यदि फायरिंग शुरू हो जाए तो आत्मरक्षा के साथ-साथ अपराधियों को पकड़ना भी एक बड़ी चुनौती होती है.

ये भी पढ़ें- बिहार में कई इलाकों में लगे भूकंप के झटके, घरों से बाहर निकले लोग

उन्होंने कहा कि सोन नदी में बालू माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई पूरी तैयारी के साथ करनी चाहिए और इसके लिए पुलिस को हर संसाधन से लैश रहना चाहिए. एएसपी ने बुधवार की कार्रवाई के लिए बिहटा पुलिस की सराहना करते हुए कहा कि ये एक बड़ी कार्रवाई थी.

ये भी पढ़ें- 9 साल के लंबे इंतजार के बाद बिहटा में शुरू हुआ ESIC अस्पताल

मनोज तिवारी ने कहा कि बालू माफियाओं की तरफ से 6 राउंड गोली चलाई गई जबकि पुलिस ने आत्मरक्षा में 2 राउंड गोली चलाई और एक बालू लदे नाव के साथ 11 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार सभी लोगों पर खनन विभाग कानून की तहत केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जाएगी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर