Home /News /bihar /

मधुमक्खी कारोबारी परेशान, सरकार नहीं करा रही कोई सहूलत मुहैया

मधुमक्खी कारोबारी परेशान, सरकार नहीं करा रही कोई सहूलत मुहैया

बिहार में शहद के कारोबारी मुश्किल में हैं। ये कारोबार घरेलु उद्योग का हिस्सा है लेकिन इस पेशे से जुड़े लोगों को सरकार की तरफ से किसी तरह की कोई मदद नहीं मिल पाती है। मोतिहारी से लेकर मुजफ्फरपुर के बीच में शहद के कारोबारियों की बड़ी तादाद है जो मधुमक्खी से शहद निकालते हैं।

बिहार में शहद के कारोबारी मुश्किल में हैं। ये कारोबार घरेलु उद्योग का हिस्सा है लेकिन इस पेशे से जुड़े लोगों को सरकार की तरफ से किसी तरह की कोई मदद नहीं मिल पाती है। मोतिहारी से लेकर मुजफ्फरपुर के बीच में शहद के कारोबारियों की बड़ी तादाद है जो मधुमक्खी से शहद निकालते हैं।

बिहार में शहद के कारोबारी मुश्किल में हैं। ये कारोबार घरेलु उद्योग का हिस्सा है लेकिन इस पेशे से जुड़े लोगों को सरकार की तरफ से किसी तरह की कोई मदद नहीं मिल पाती है। मोतिहारी से लेकर मुजफ्फरपुर के बीच में शहद के कारोबारियों की बड़ी तादाद है जो मधुमक्खी से शहद निकालते हैं।

अधिक पढ़ें ...
बिहार में शहद के कारोबारी मुश्किल में हैं। ये कारोबार घरेलु उद्योग का हिस्सा है लेकिन इस पेशे से जुड़े लोगों को सरकार की तरफ से किसी तरह की कोई मदद नहीं मिल पाती है। मोतिहारी से लेकर मुजफ्फरपुर के बीच में शहद के कारोबारियों की बड़ी तादाद है जो मधुमक्खी से शहद निकालते हैं।

शहद मधुमक्खियों से तैयार होता है। पहले मधुमक्खी को पाला जाता है, फिर मौसम के हिसाब से उनहें एक जगह से दुसरी जगह रखा जाता है। अभी लीची के पेड़ों ने फल देना शुरी किया है इस कारण मधुमक्खियों को मुजफ्फरपुर और मोतिहारी के इलाके में रखा गया है ताकी लीची के पेड़ से मधुमक्खियां शहद तैयार कर सके। एक पेटी से एक सीजन में करीब 25 किलो शहद निकलता है लेकिन उनके लिए मुजफ्फरपुर और मोतिहारी में किसी तरह की कोई सहुलत मुहैया नही की गई है इसलिए कारोबारी परेशान हैं।

आप hindi.news18.com की खबरें पढ़ने के लिए हमें फेसबुक और टि्वटर पर फॉलो कर सकते हैं.

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर