भारत बंद : बिहार में कई स्थानों पर आगजनी, रोड-रेल सेवा ठप, जहानाबाद में बच्ची की मौत

महंगाई और पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद के दौरान बिहार में कई स्थानों पर आगजनी हुई, वाहनों को निशाना बनाया गया, रोड-रेल सेवाएं रोकी गईं, शैक्षणिक और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे . सबसे दुखद घटना जहनाबाद में हुई जहां दो साल की मासूम बच्ची बंद के कारण समय से अस्पताल नहीं पहुंच पाई और रास्ते में ही उसकी मौत हो गई.

News18 Bihar
Updated: September 10, 2018, 7:45 PM IST
भारत बंद : बिहार में कई स्थानों पर आगजनी, रोड-रेल सेवा ठप, जहानाबाद में बच्ची की मौत
ट्रेन रोकते बंद समर्थक
News18 Bihar
Updated: September 10, 2018, 7:45 PM IST
महंगाई और पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दाम के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद के दौरान बिहार में कई स्थानों पर आगजनी हुई, वाहनों को निशाना बनाया गया, रोड-रेल सेवाएं रोकी गईं, शैक्षणिक और व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे . सबसे दुखद घटना जहनाबाद में हुई जहां दो साल की मासूम बच्ची बंद के कारण समय से अस्पताल नहीं पहुंच पाई और रास्ते में ही उसकी मौत हो गई.

हालांकि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी और आरजेडी के नेता तेजस्वी यादव ने इस बात से इनकार किया कि बंद समर्थकों के कारण बच्ची के अस्पताल जाने में देरी हुई. अपर पुलिस महानिदेशक एसके सिंघल ने बताया कि मामले की जांच जहानाबाद के एसपी कर रहे हैं.

बिहार के वैशाली जिले के सोनपुर में दो गुटों में हिंसक झड़प हुई है. इस दौरान फायरिंग और पत्थरबाजी भी हुई जिससे अफरा तफरी मच गई. घटना सोनपुर थाना के गौतम चौक की है.

बताया जाता है बंद समर्थकों के सड़क पर उतरने के दौरान कथित भाजपा समर्थक युवकों द्वारा बंद के विरोधी में नारेबाजी की जाने लगी. इसी दौरान दोनों गुटों में झड़प हो गयी और फायरिंग हुई. फायरिंग की घटना के बाद स्थिति तनावपूर्ण हो गई. फिलहाल मौके पर पहुंची पुलिस वहां कैम्प कर रही है. राजधानी पटना समेत कई जगहों पर लोगों ने बंदी की आड़ में गुंडागर्दी की. राजधानी पटना की पुलिस तो पुरी तरह से बेबस और लाचार नजर आयी. कार और बस पर पथराव करने के बाद जाम समर्थकों ने पुलिस की जीप को भी निशाना बनाया.

बिहार के जहानाबाद में एक दो साल की मासूम बच्ची की जान ले ली. बच्ची की तबीयत बिगड़ने के बाद इसके माता-पिता बेलागंज से जहानाबाद सदर अस्पताल जा रहे थे.  रास्ते में उनकी गाड़ी भीषण सड़क जाम में फंस गई. बंद समर्थक किसी वाहन को आगे नहीं बढ़ने दे रहे थे. इसी दौरान बच्ची की मौत हो गई.

सोनपुर में फायरिंग के बाद आयी पुलिस


दूसरी ओर पटना-मुगलसराय रूट पर बिहटा स्टेशन पर बंद समर्थकों ने ट्रेन पर पथराव कर दिया. बंद समर्थकों ने 510 सवारी गाड़ी को निशाना बनाते हुए पथराव किया जिसमें कई यात्रियों को भी चोट लगी. इस दौरान काफी देर तक ट्रेन दानापुर में खड़ी रही.

पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस के भारत बंद का व्यापक असर बिहार के सभी हिस्सों में दिखाई दे रहा है. पटना में बंद समर्थकों ने उत्पात मचाया है. जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ता सांसद पप्पू यादव के नेतृत्व में पटना की सड़कों पर उतरे.

इस दौरान जाप के कार्यकर्ताओं ने उत्पात मचाते हुए गाड़ियों को निशाना बनाया. पटना के राजेंद्र नगर इलाके में पप्पू यादव के समर्थकों ने गाड़ियों पर पत्थर और लाठियां बरसाई जिससे कई गाड़ियों के शीशे टूट गये. हुड़दंगियों ने एनएमसीएच के डॉक्टरों की गाड़ी को भी निशाना बनाते हुए तोड़फोड़ की. बंद को लेकर सभी अहम हाईवे और पुलों पर यातायात ठप रहा. ट्रेन ट्रैफिक पर भी इसका बुरा असर पड़ा . बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी), भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (सीपीआई), मार्क्सवादी कम्युनिस्‍ट पार्टी (सीपीएम) और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) ने बंद का समर्थन किया.

पटना - मोकामा एनएच -31, मुजफ्फरपुर- बरौनी एनएच 28, हाजीपुर-मुजफ्फरपुर एनएच -77, छपरा-पटना, जहानाबाद-पटना और दरभंगा-समस्तीपुर स्टेट हाई-वे पर प्रदर्शनकारियों ने ट्रैफिक रोक दिया. पटना को उत्तर बिहार से जोड़ने वाले महात्मा गांधी सेतु पर भी वाहनों की लंबी कतार देखी गई. हाजीपुर की ओर से आरजेडी समर्थकों ने सड़क पर टायर जलाकर ट्रैफिक रोक दिया.

उधर दरभंगा में सीपीआई समर्थकों ने ट्रेनें रोक दी . आरा में डाउन विक्रमशिला एक्सप्रेस को आरजेडी समर्थकों ने रोक दिया . जहानाबाद में रांची-पटना इंटरसिटी एक्सप्रेस घंटो तक रुकी रही. पटना के राजेंद्र नगर टर्मिनल पर भी सुबह-सुबह बंद समर्थक आ धमके.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर