Home /News /bihar /

बिहार के लिए बड़ी खबर: कोसी-मेची नदी लिंक योजना को केंद्र सरकार की स्वीकृति, DPR तैयार

बिहार के लिए बड़ी खबर: कोसी-मेची नदी लिंक योजना को केंद्र सरकार की स्वीकृति, DPR तैयार

केंद्र सरकार ने कोसी-मेची नदी लिंक योजना को मंजूरी दी. (सांकेतितक तस्वीर)

केंद्र सरकार ने कोसी-मेची नदी लिंक योजना को मंजूरी दी. (सांकेतितक तस्वीर)

River Linking Scheme in Bihar: जदयू सांसद ललन सिंह द्वारा लोकसभा में कोसी-मेची लिंक योजना पर सवाल पूछे जाने के बाद केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सदन में कहा कि कोसी- मेची लिंक योजना के लिए डीपीआर बना लिया गया है. निश्चित रूप से यह प्रावधान है कि 2 लाख हेक्टेयर से ज्यादा वाली सिंचाई क्षमता वाली योजना नेशनल प्रोजेक्ट के रूप में उसको मान्यता दी जा सकती है. इस तरह से यह मानक तो पूर्ण करता है, लेकिन कई अन्य बिंदु हैं जिन्हें पूर्ण करना जरूरी है. यदि योजना सभी क्राइटेरिया को पूरा करती है तो इस पर निश्चित रूप से विचार किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

पटना. बिहार में हर साल आने वाली बाढ़ की तबाही को रोकने के लिए सरकार ने नदियों को जोड़ने की योजना बनाई है. नदी को जोड़ने की योजना पर राज्य सरकार के स्तर पर काम भी शुरू हो गया है. इस योजना के अंतर्गत कोसी- मेची लिंक योजना (Kosi-Mechi Link Scheme) के लिए बिहार सरकार के द्वरा केंद्र सरकार से अनुमति मांगी जा रही थी, जिसके बाद बृहस्पतिवार को बिहार की कोसी-मेची लिंक योजना का मसला लोकसभा में उठा. जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष सह नेता लोकसभा ललन सिंह ने यह मसला उठाया. जेडीयू सांसद ने सदन में कहा कि जब केंद्र सरकार का यह निर्णय है कि दो लाख से अधिक सिंचाई योजना की क्षमता होगी तो क्या कोसी-मेची लिंक योजना को राष्ट्रीय योजना घोषित की जायेगी ?

ललन सिंह ने कहा कि कोसी- मेची लिंक योजना को केंद्र सरकार ने स्वकृति दी है. केंद्र सरकार का निर्णय है कि 2 लाख हेक्टेयर से ज्यादा सिचाई क्षमता वाली जो योजनाएं होंगी, उनको राष्ट्रीय योजना घोषित करेंगे. कोशी -मेची लिंक योजना 2 लाख 17000 हेक्टेयर में सिंचाई करेगा तो क्या इस योजना को राष्ट्रीय योजना घोषित करेंगे?

इस पर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सदन में कहा कि कोसी- मेची लिंक योजना के लिए डीपीआर बना लिया गया है. निश्चित रूप से यह प्रावधान है कि 2 लाख हेक्टेयर से ज्यादा वाली सिंचाई क्षमता वाली योजना नेशनल प्रोजेक्ट के रूप में उसको मान्यता दी जा सकती है. इस तरह से यह मानक तो पूर्ण करता है, लेकिन कई अन्य बिंदु हैं जिन्हें पूर्ण करना जरूरी है. यदि योजना सभी क्राइटेरिया को पूरा करती है तो इस पर निश्चित रूप से विचार किया जाएगा.

Tags: Bihar News, Kishanganj, Lalan Singh

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर