लाइव टीवी

खुशखबरीः बिहार कृषि विश्वविद्यालय को मिला राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस अवार्ड
Patna News in Hindi

Rajendra Pathak | News18Hindi
Updated: February 10, 2020, 8:24 PM IST
खुशखबरीः बिहार कृषि विश्वविद्यालय को मिला राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस अवार्ड
बिहार कृषि विश्वविद्यालय अपने प्रसार शिक्षा निदेशालय के अंतर्गत संचालित मीडिया सेंटर के माध्यम से चलाए जा रहे ICT आधरित ई-एक्सटेंशन और सूचना प्रसार प्रणाली परियोजना द्वारा किसानों को ई-गवरनेंस के माध्यम से सेवा प्रदान करती है. (प्रतीकात्मक फोटो)

जन-केंद्रित कृषि प्रसार सेवाओं के लिए बिहार कृषि विश्वविद्यालय, सबौर को मुम्बई में राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस अवार्ड दिया गया. प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग हर वर्ष देश के उत्कृष्ठ ई-गवर्नेंस सेवाओं का अवाॅर्ड के लिए चयन करती है, इस वर्ष देश भर के 700 से अधिक सरकारी संस्थानों ने इसके लिए आवेदन दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 10, 2020, 8:24 PM IST
  • Share this:
पूर्णिया.  बेहतर ई-गवर्नेंस और किसानों के बीच बेहतर तकनीकों को सफलतापूर्वक प्रचारित-प्रसारित करने के काम में सबौर कृषि विश्वविद्यालय को केन्द्र सरकार ने पुरस्कृत किया है. दो दिन पहले यह पुरस्कार प्रशासनिक सुधार विभाग के मंत्री ने सबौर विश्वविद्यालय के कुलपति को सौंपा. पुरस्कार लेकर पूर्णिया कृषि काॅलेज पहुंचे कृषि विश्वविद्यालय, सबौर के कुलपति का छात्रों और शिक्षकों ने जोरदार स्वागत किया.  कुलपति ने ए के सिंह ने कहा कि यह बिहार में कृषि लक्ष्यों को पूरा करने का प्रमाण है और उनका विश्वविद्यालय आने वाले दिनों में भी किसानों के लिए खेती की उपयोगी सूचनाएं लगातार देता रहेगा.

कृषि प्रसार सेवाओं के लिए अवॉर्ड
जन-केंद्रित कृषि प्रसार सेवाओं के लिए बिहार कृषि विश्वविद्यालय, सबौर को मुम्बई में राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस अवाॅर्ड दिया गया. प्रशासनिक सुधार और लोक शिकायत विभाग हर वर्ष देश के उत्कृष्ठ ई-गवर्नेंस सेवाओं का अवाॅर्ड के लिए चयन करती है, इस वर्ष देश भर के 700 से अधिक सरकारी संस्थानों ने इसके लिए आवेदन दिया था. विश्वविद्यालय की ओर से कुलपति डॉ अजय कुमार सिंह, प्रसार शिक्षा निदेशक डॉ आर के सोहाने, सहायक प्राध्यापक डॉ राघवन और मीडिया सेंटर प्रभारी ईश्वर चंद्र ने अवार्ड को ग्रहण किया. मुम्बई में चलने वाले दो दिवसीय राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने अवॉर्ड दिया.

क्या है बीएयू की जन-केंद्रित ई-कृषि प्रसार सेवा

बिहार कृषि विश्वविद्यालय अपने प्रसार शिक्षा निदेशालय के अंतर्गत संचालित मीडिया सेंटर के माध्यम से चलाए जा रहे ICT आधरित ई-एक्सटेंशन और सूचना प्रसार प्रणाली परियोजना द्वारा किसानों को ई-गवर्नेंस के माध्यम से सेवा प्रदान करती है. इसके तहत जिले के 21 कृषि विज्ञान केंद्रों से नियमित रूप से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 100 से अधिक किसान एक रणनीति के तहत विश्विद्यालय मुख्यालय से प्रशिक्षण लेते हैं. प्रशिक्षण के दौरान किसान खेतों में चल रही गतिविधियों और वैज्ञानिक पद्धति से की जा रही खेती को सीधा प्रसारण देखते हैं.

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पटना से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 10, 2020, 8:24 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर