चिराग ने CM नीतीश पर फिर किया 'प्रहार', JDU ने पलटवार करते हुए उन्हें कहा 'जमूरा'

चिराग पासवान अपनी चुनावी सभाओं में प्रत्यक्ष रूप से 
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके कार्यकाल को लेकर सवाल खड़े करते हैं (फाइल फोटो)
चिराग पासवान अपनी चुनावी सभाओं में प्रत्यक्ष रूप से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके कार्यकाल को लेकर सवाल खड़े करते हैं (फाइल फोटो)

पहले चरण के चुनाव का प्रचार खत्म होने के बाद चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने भविष्यवाणी करते हुए कहा कि 10 नवंबर के बाद नीतीश कुमार (Nitish Kumar) बिहार के मुख्यमंत्री (Bihar CM) पद पर नहीं रहेंगे. चुनाव के बाद एलजेपी बीजेपी (LJP-BJP) के साथ मिलकर राज्य में नई सरकार बनाएगी

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2020, 9:06 PM IST
  • Share this:
पटना. बिहार के चुनावी घमासान (Bihar Assembly Election 2020) में नेता एक दूसरे पर जमकर वार-प्रत्यारोप कर रहे हैं. इस कड़ी में अब लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर एक बार फिर हमला बोला है. सोमवार को पहले चरण के चुनाव प्रचार के अंतिम दिन चिराग ने जहां फिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की तारीफों के पुल बांधे. वहीं यह भविष्यवाणी भी कर दी कि 10 नवंबर के बाद नीतीश कुमार बिहार के मुख्यमंत्री (Bihar CM) पद पर नहीं रहेंगे.

चिराग ने कहा कि नीतीश कुमार अब कभी बिहार के मुख्यमंत्री नहीं बन पाएंगे. चुनाव के बाद एलजेपी बीजेपी के साथ मिलकर राज्य में नई सरकार बनाएगी. यह बात मैं काफी समय से कहता आ रहा हूं.
चिराग पासवान के बयान पर जनता दल युनाइटेड ने पलटवार किया है. पार्टी के नेता संजय झा ने चिराग पर तंज कसते हुए कहा कि वो 'जमूरे' की भूमिका में हैं. उन्होंने कहा कि आप अंदाजा लगा सकते हैं कि उनका मदारी कौन है. कोई है जो चिराग को अपने इशारों पर नचा रहा है और वो नाच रहे हैं.

विधानसभा चुनाव में NDA गठबंधन और महागठबंधन में है सीधी टक्कर



बता दें कि बिहार के चुनावी दंगल में एनडीए गठबंधन की महागठबंधन से सीधी टक्कर है. बीजेपी के नेतृत्व वाले एनडीए गठबंधन में जेडीयू, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा, विकासशील इंसान पार्टी शामिल हैं. वहीं राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के नेतृत्व वाले महागठबंधन में कांग्रेस और वामपंथी दल शामिल हैं. केंद्र में एनडीए की सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) बिहार में अलग होकर चुनाव लड़ रही है. इसके तहत एलजेपी ने जिन सीटों से जेडीयू चुनाव मैदान में हैं केवल वहां उसके खिलाफ अपने उम्मीदवार उतारे हैं.

बिहार में विधानसभा की 243 सीटों के लिए तीन चरणों में चुनाव होना है. इसके तहत प्रथम चरण के लिए 28 अक्टूबर को 71 सीटों पर, दूसरे चरण के लिए तीन नवंबर को 94 सीटों पर और तीसरे चरण के लिए सात नवंबर को 78 सीटों के लिए मतदान होगा. वहीं वोटों की गिनती 10 नवंबर को होगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज