Bihar Poll 2020: जनता दल राष्ट्रवादी के प्रत्याशी नारायण सिंह की गोली मारकर हत्या, लोगों ने हमलावर को मार डाला

हमले के बाद भाग रहे आरोपियों में से एक को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसे पीट-पीटकर अधमरा कर दिया, जिसके बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई. (फोटो साभार- फेसबुक)
हमले के बाद भाग रहे आरोपियों में से एक को ग्रामीणों ने पकड़ लिया और उसे पीट-पीटकर अधमरा कर दिया, जिसके बाद अस्पताल में उसकी मौत हो गई. (फोटो साभार- फेसबुक)

शिवहर में चुनावी प्रचार प्रसार के दौरान हथियारबंद दस लोगों ने श्रीनारायण सिंह (Shrinarayan Singh) के काफिले पर हमला बोल दिया. इस दौरान सिंह समेत पांच लोगों को गोली लगी. जिनमें से तीन लोगों की मौत हो गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 25, 2020, 6:54 AM IST
  • Share this:
शिवहर. बिहार में विधानसभा चुनावों (Bihar Assembly Election 2020) के बीच ही अब बड़ी वारदात हो गई है. शिवहर के हथसार गांव में जनता दल राष्ट्रवादी के उम्मीदवार नारायण सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस दौरान उनके दो समर्थकों को भी गोली मारी गई. वारदात में नारायण समेत दो लोगों की मौत हो गई है. गौरतलब है कि नारायण चुनावों के मद्देनजर शिवहर के हथसार गांव में प्रचार के लिए निकले थे. इसी दौरान कुछ अपराधियों ने उन पर हमला बोल दिया. घायल नारायण सिंह को तत्काल अस्पताल ले जाया गया, जहां पर इलाज के दौरान उन्होंने दम तोड़ दिया.

दस थे हमलावर
प्रत्यदर्शियों के अनुसार चुनाव प्रचार के लिए निकले नारायण के काफिले पर अचानक दस हथियारबंद लोगों ने हमला कर दिया. इस दौरान उन्होंने ताबड़तोड़ गोलीबारी की. हमले में श्रीनारायण और उनके एक समर्थक की मौत हो गई. वहीं दो अन्य की हालत भी नाजुक बताई जा रही है.

एक हमलावर को भीड़ ने पीट-पीटकर मार डाला
गोलीबारी करने के बाद हमलावर वहां से फरार हो रहे थे, इसी दौरान ग्रामीणों ने साहस दिखाते हुए एक को पकड़ लिया. ग्रामीणों ने हमलावर को पीट-पीटकर अधमरा कर दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह हमलावर को छुडाकर अस्पताल में भर्ती कराया, जहां उसने भी इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.





प्रत्यदर्शी ने कहा- अचानक से बरसने लगीं गोलियां
वारदात के दौरान नारायण स‌िंह के साथ मौजूद अभय कुमार ने बताया कि वे प्रचार के दौरान गांव में थे, इसी दौरान दस से 15 लोग अचानक आए और मार दो मार दो चिल्लाने लगे. अभय ने बताया कि इस दौरान अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट गूंज उठी. इस दौरान मैं नेताजी के पीछे था. नेताजी को भी गोली लगी और वे अचानक गिर गए. इसके बाद गोली मुझे भी लगी. अभय ने बताया कि ताबड़तोड़ फायरिंग करने के बाद हमलावर वहां से फरार हो गए. इस दौरान मौके पर अफरातफरी मच गई.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज