Hasanpur Seat Live Update: तेज प्रताप यादव जीते, जेडीयू के राजकुमार राय हारे

तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)
तेजप्रताप यादव (फाइल फोटो)

बिहार (Bihar) की राजनीति में परिवारवाद का सबसे बड़ा उदाहरण पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) का परिवार माना जाता है.

  • Share this:
पटना. हसनपुर सीट से तेज प्रताप यादव जीत गए हैं. जेडीयू के राजकुमार राय दूसरे स्थान पर हैं. बिहार (Bihar) की राजनीति में परिवारवाद का सबसे बड़ा उदाहरण पूर्व सीएम लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) का परिवार माना जाता है. इस परिवार के सबसे चर्चित चेहरों में से एक हैं, लालू और राबड़ी देवी के सबसे बड़े बेटे तेजप्रताप यादव (Tej Pratap Yadav). बिहार विधानसभा चुनाव 2020 (Assembly Election 2020) में तेजप्रताप सियासी मैदान में अपनों से ही मुकाबला कर रहे हैं. बिहार चुनाव 2020 में हसनपुर विधानसभा सीट से तेजप्रताप आरजेडी के प्रत्याशी हैं और उनका मुकाबला जेडीयू के राज कुमार रे से है.

बिहार की राजनीति में तेजप्रताप यादव की छवि 'अपनों से ही जंग' की रही है. 2015 में चुनाव के बाद एक समय तेजप्रताप अपने भाई तेजस्वी के खिलाफ भी खड़े नजर आए. हालांकि 2020 के चुनाव में खुले तौर पर ऐसा कोई मतभेद दोनों के बीच नजर नहीं आया. तेजप्रताप को अपनी बात खुलकर रखने के तौर पर जाना जाता है. आध्यात्म में भी उनकी खासी रुचि देखने को मिलती है.

ये भी पढ़ेंः बिहार चुनाव नतीजे LIVE: बिहार चुनाव के नतीजे अभी हैं दूर, EC ने कहा- अब तक बस 92 लाख वोटों की हुई गिनती, 4 करोड़ हैं बाकी



इस बार बदली सीट
इस चुनाव में हसनपुर विधानसभा सीट से प्रत्याशी तेजप्रताप ने 2015 में वैशाली जिले के महुआ विधानसभा से चुनाव लड़ा और जीते भी. हसनपुर यादव और मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र है. तेजप्रताप का इस चुनाव में सामना जनता दल (यूनाइटेड) के मौजूदा विधायक राज कुमार रे से था, जिन्होंने 2015 में बीएलएसपी के बिनोद चौधरी को हराया था. वह नवंबर 2015 से जुलाई 2017 तक नीतीश कुमार की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री बने. दिसंबर 2015 में, उन्हें बिहार के पर्यावरण मंत्री के रूप में भी नियुक्त किया गया. तेजप्रताप यादव बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों लालू व राबड़ी देवी की सात बेटियों और दो बेटों में सबसे बड़ी संतान हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज