बिहार चुनाव: NDA में सीट तय होते ही चिराग पासवान की दो टूक, Twitter पर किया बड़ा ऐलान

पिछले एक साल में जेडीयू और एलजेपी के बीच रिश्ते खराब होते चले गए. (PTI)
पिछले एक साल में जेडीयू और एलजेपी के बीच रिश्ते खराब होते चले गए. (PTI)

Bihar Assembly Election 2020: एनडीए (NDA) में सीटों का बंटवारा होते ही एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान (Chirag Paswan) हमलावर हो गए. उन्होंने एक ट्वीट के जरिए सरकार के योजनाओं की जांच की बात कही. तो वहीं सुशील मोदी ने कहा कि लोजपा बिहार में पीएम मोदी के चेहरे का इस्तेमाल नहीं कर सकती.

  • Share this:
पटना.  पिछले करीब एक साल में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA)  और लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के बीच रिश्ते खराब होते चले गए. कुछ ऐसा ही नजारा बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर एनडीए के सीट शेयरिंग के दौरान भी दिखा. मालूम हो कि एनडीए में बीजेपी (BJP) और जेडीयू के बीच सीट शेयरिंग तय कर दी गई. पार्टी ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिए सीटों के बंटवारे का ऐलान किया. वहीं, सीएम नीतीश कुमार और एलजेपी अध्यक्ष की तल्खी की वजह से एनडीे के बैनर में एलजेपी को कोई जगह नहीं मिली. अब सीटों के बटवारे के बाद चिराग पासवान (Chirag Paswan) हमलावर हो गए हैं. अपने ऑफिशियलय ट्विटर हैंडल पर उन्होंने बड़ा ऐलान कर दिया है.

चिराग पासवान ने अपने ट्वीट में लिखा, अगली सरकार बनते ही सात निश्चय योजना में हुए भ्रष्टाचार की जांच कर सभी दोषियों को जेल भेजा जाएगा और लंबित राशि का तुरंत भुगतान किया जाएगा, ताकि अधूरे पड़े कार्य पूरे हो सकें.

चिराग पासवान ने ये ट्वीट किया है





एनडीए में सीटों का बंटवारा

मालूम हो कि एनडीए ने सीटों के बंटवारे का औपचारिक ऐलान कर दिया है. इसके तहत 243 सीटों वाली बिहार विधानसभा की 115 सीटों पर JDU लड़ेगी जबकि बीजेपी 112 सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारेगी. महागठबंधन छोड़ एनडीए में आने वाले मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी 9 सीटों पर तो जीतनराम मांझी की पार्टी हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा यानी HAM 7 सीटों पर अपना उम्मीदवार उतारेगी. हालांकि इसमें स्पष्ट कर दें कि जेडीयू के 122 में 7 हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा, वहीं बीजेपी 121 में 9 सीटें विकासशील इंसान पार्टी को दी गई हैं.



तो वहीं एनडीए की तस्वीर से लोजपा के नेताओं की फोटो हटा दी गई है. इससे पहले भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने स्पष्ट करते हुए कहा है कि एनडीए में सारी बातें जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार के नेतृत्व में हो रही है. गठबंधन में वही रहेंगे जो नीतीश जी का नेतृत्व स्वीकार करेंगे. उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान सक्रिय होते तो ये स्थिति नहीं होती. उनकी तबीयत खराब रहने के कारण यह स्थिति बनी है कि लोजपा हमसे अलग हो गई है.

चिराग पासवान पर पलटवार

सीट तय होते ही सुशील मोदी ने भी बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि रामविलास पासवान केंद्र में मंत्री रहेंगे. उन्होंने कहा कि जो नीतीश को स्वीकार नहीं करेगा वो एनडीए में नहीे रह सकता. बिहार एनडीए में नीतीश के चेहरे का साथ देने वाला ही रहेगा. सुशील मोदी ने कहा, बिहार में सिर्फ चार दलों का गठवन्धन है. अगर जरूरत हुई तो चुनाव आयोग को लिखकर देंगे. यहीं चार दल पीएम के तस्वीर का इस्तेमाल कर सकते हैं. लोजपा बिहार में पीएम मोदी के चेहरे का इस्तेमाल नहीं कर सकती वरना करवाई की जाएगी. तो वहीं  HAM प्रवक्ता डॉ. दानिश रिजवान ने कहना है कि चिराग की पार्टी केन्द्र सरकार में शामिल है. पिता केन्द्र में मंत्री हैं, भाई,चाचा और खुद सांसद हैं. सात निश्चय योजना की जांच CBI से करवा दें. उन्होंने कहा कि अगर चिराग पासवान को नीतीश कुमार से परहेज है तो नैतिकता के आधार पर अपने पूरे परिवार का इस्तीफ़ा दिलवाएं, तब मुख्यमंत्री पर सवाल उठाएं, नीतीश-मोदी के चेहरे पर ही चिराग पासवान के परिवार के सदस्य सांसद बने हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज